कोरोना की दूसरी लहर से घातक होगी तीसरी लहर!, जानिए कितने दिन रहेगा इसका असर

0
21

कोरोना की दूसरी लहर का प्रकोप आहिस्ता-आहिस्ता कम हो रहा है, मगर इसी बीच कोरोना की तीसरी लहर का खतरा मंडराने लगा है. जैसा कि आप सभी जानते हैं कि वैज्ञानिकों ने पहले ही कोरोना की तीसरी लहर लेकर चेतावनी दे चुकें हैं. इसी बीच एसबीआई की हालिया रिपोर्ट में संभावित कोरोना की तीसरी लहर को लेकर दावा किया गया है कि यह दूसरी लहर से ज्यादा खतरनाक हो सकती है और इसके गंभीर परिणाम भी हो सकते है.

एसबीआई ने अपनी रिपोर्ट में कहा गया है कि जिन बड़े देशों में कोरोना की दूसरी लहर 108 दिनों तक थी उन देशों में कोरोना की तीसरी लहर 98 दिनों तक रहेगी. तीसरी लहर में दूसरी लहर के मुकाबले 1.8 गुणा अधिक केस आएंगे. जबकि दूसरी लहर में पहले के मुकाबले 5.2 गुणा अधिक केस आए थे. भारत के मामले में यह 4.2 फीसदी अधिक था.

अंतराष्ट्रीय एक्सपर्ट बताते हैं कि कोरोना की तीसरी लहर दूसरी लहर से ज्यादा खतरनाक होगी. हालांकि यह भी अनुमान लगाया जा रहा है कि कोरोना वायरस के खिलाफ बेहतर तैयारी के जरिए इससे होने वाले प्रभाव को कम किया जा सकता है. गंभीर मामलों में कमी लाई जा सकती है इससे मृत्यु दर में भी कमी आएगी.

इस रिपोर्ट में कहा गया है कि स्वास्थ्य के लिए बेहतर आधारभूत संरचना और तेजी से वैक्सीनेशन करने पर गंभीर मामलों की संख्या को 20 प्रतिशत से 5 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है. इसके मुताबिक अगर वैक्सीनेशन हो जाए और स्वास्थ्य व्यवस्था बेहतर हो जाए तो दूसरी लहर में हुई 1.7 लाख मौत की तुलना में तीसरी लहर में मौत के आंकड़े को 40 हजार पर रोका जा सकता है.

एसबीआई के मुताबिक तीसरी लहर बच्चों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. इसलिए वैक्सीनेशन पर एसबीआई की रिपोर्ट में भी जोर दिया गया है. एसबीआई ने कहा कि प्राथमिकता के आधार पर बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन दी जानी चाहिए. क्योंकि देश के 15-17 करोड़ बच्चे जो 12-18 आयु वर्ग के हैं वो कोरोना की तीसरी लहर से सबसे अधिक प्रभावित होंगे.

वहीं, हिंदुस्तान में बीते बुधवार को कोरोना के 1,32,788 नए मामले सामने आने से संक्रमण के कुल केस 2,83,07,832 हो गए हैं, जबकि संक्रमण की दैनिक दर गिरकर 6.57 प्रतिशत रह गई है. स्वास्थ्य मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, इस महामारी से 3,207 और लोगों की जान चली गई है और इसके साथ ही मृतकों की कुल संख्या 3,35,102 हो गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here