गोरखपुर गोली कांड का खुलासा, बेटी की आबरू लूटने वाले आरोपी को पिता ने दी मौत की सजा

0
127

वक्त और हालात इंसान को किस तरह मजबूर बना सकता है इसका एक उदाहरण गोरखपुर गोली कांड है, जो एक सीधे-साधे इंसान को मुजरिम बना दिया है दरअसल, एक पिता ने अपनी बेटी को इंसाफ दिलाने के लिए जुर्म का रास्ता अपना लिया और बेटी की आबरू लूटने वाले आरोपी को मौत के घाट उतार दिया.

दरअसल, 21 जनवरी को गोरखपुर कचहरी में उस वक्त अफरा तफरी मच गई जब कचहरी के मेन गेट पर दो बाइक सवार हमलावरों ने एक युवक को सरेआम गोली से उड़ा दिया. हमलावरों ने उस युवक को एक बाद एक 4 गोली दागी. जब तक उसकी मौत नहीं हो गई. हालांकि वारदात के बाद दोनों हमलावर वहां से भागने लगे, लेकिन लोगों ने उन्हें पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया. गोरखपुर पुलिस की गिरफ्त में आए हमलावर से पूछताछ में पता चला कि गोली चलाने वाला एक पूर्व फौजी है. जिसने बेटी की आबरू लौटने वाले आरोपी से बदला लेने के लिए दिन दहाड़े इस कत्ल की वारदात को अंजाम दिया.

जिस शख्स की हत्या की गई. उसका नाम दिलशाद हुसैन था. वो मूल रूप से बिहार के मुजफ्फरपुर का रहने वाला था. वो गोरखपुर के बड़हलगंज थाना क्षेत्र में पटना चौराहे के पास ही साईकिल रिपेयरिंग की दुकान चलाता था. जबकि हमलावर एक फौजी है. जो रिटायर होने के बाद साल 2019 में पटना चौराहे के पास ही अपना घर बनवा रहा था.

वहीं दिलशाद और फौजी के बेटी में बातचीत होने लगी थी. आरोप है कि इसी दौरान दिलशाद उस नाबालिग लड़की को लेकर फरार हो गया और बहला-फुसलाकर उसके साथ रेप करता रहा.

इसके बाद दिलशाद ने अपने वकील को फोन कर बताया कि गार्ड अंदर नहीं आने दे रहे हैं. लिहाजा उसके वकील ने उसे वहीं इंतजार करने के लिए कहा. वकील खुद गेट पर आ रहा था. इसी दौरान बाइक पर सवार को होकर दो शख्स वहां पहुंचे और उनमें से एक ने दिलशाद को निशाना बनाकर एक के बाद एक चार गोली दाग दी. पहली गोली उसकी कनपटी पर लगी, जबकि बाकि गोलियां उसके पेट में जा घुसी. जिसकी वजह से दिलशाद ने मौके पर ही दम तोड़ दिया.

दिलशाद लहूलुहान होकर वहीं गिर पड़ा. कोर्ट में अफरा तफरी मच गई. हमलावर वहां से भागने लगे. लेकिन कोर्ट के सुरक्षाकर्मियों ने लोगों की मदद से हमलावरों को पकड़ लिया. पकड़े जाने पर पूर्व फौजी की पहचान हुई और पूछताछ में उसने पुलिस को इस कत्ल की वजह बताई.

हत्यारोपी ने बताया कि जमानत पर छूटने के बाद रेप का आरोपी दिलशाद उसे बेटी का अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देता रहता था. साथ ही दिलशाद ने उनके बेटे को भी जान से मारने की धमकी दी थी. इसी बात से परेशान होकर फौजी ने उसे मौत के घाट उतार दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here