नए संसद भवन में होगी हजारों गाड़ियों को पार्क करने की सुविधा, ट्रैफिक को लेकर बढ़ी चिंता

0
21
parliament house

सेंट्रल विस्टा परिजोयना के तहत नया संसद परिसर बनाया जा रहा है और भवनों में कम से कम 16,000 गाड़ियों को पार्क करने की सुविधा होगी। मतलब ट्रैफिक एक बड़ी समस्या बनकर उभर सकती है। इस परियोजना के वास्तु सलाहकार का कहना है कि भीड़भाड़ और यातायात की आवाजाही पर प्रभाव ना पड़े, ये सुनिश्चित करने के लिए पर्याप्त उपाय किए जाएंगे।

एक अंग्रेजी अखबार में छपी खबर के मुताबिक परियोजना का काम संभाल रहे केंद्रीय लोक निर्माण विभाग के अनुसार आम केंद्रीय सचिवालय भवनों, केंद्रीय सम्मेलन केंद्र, एसपीजी, प्रधानमंत्री आवास और उपराष्ट्रपति के भवन में 14095 वाहनों के लिए पार्किंग की जगह उपलब्ध कराई जाएगी।

इसमें से 13,719 कॉमन सेंट्रल सेक्रेटेरिएट बिल्डिंग और कॉन्फ्रेंस सेंटर में होंगे। बाकी एक हजार से ज्यादा कारों और लगभग 30 बसों के लिए सेंट्रल विस्टा एवेन्यू के साथ पार्किंग की सुविधा की जाएगी। जबकि मौजूदा समय में यहां केवल 600 कारें खड़ी हो सकती हैं।

संसद भवन और प्रस्तावित एमपी कक्षों में करीब 900 वाहनों के लिए भूतल और बेसमेंट पार्किंग होगी। लेकिन सिविल सोसाइटी के सदस्यों का कहना है कि ये परियोजना मौजूदा यातायात की भीड़ को बढ़ाएगी। बता दें कि महामारी से पहले औसत यातायात गति 40-45 किमी प्रति घंटे थी। साथ ही कहा गया है कि सरकार को यातायात प्रभाव के आंकलन को सार्वजनिक करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here