कोरोना की तीसरी लहर का मंडराया खतरा, सुप्रीम कोर्ट का केंद्र से बड़ा सवाल, चपेट में आ गए बच्चे तो क्या करेंगे मां-बाप?

0
30
Supreme Court

बुलेट की रफ्तार से बढ़ती जा रही कोरोना की दूसरी लहर थमने का नाम नहीं ले रही है और इसी बीच तीसरी लहर आने की सुगबुगाहट तेजी हो गई है. वहीं, कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की कमी और स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर शीर्ष अदालत में चल रही सुनाई के दौरान कोर्ट ने केंद्र सरकार से जो सवाल पूछा, वह सवाल आज हर मां-बाप को डरा रहा है. दरअसल, जस्टिस चंद्रचूड़ शाह ने कहा कि कई वैज्ञानिकों की रिपोर्ट है कि कोरोना की तीसरी लहर शुरू होने वाली है, और यह लहर पहले से ज्यादा खतरनाक है. इसके साथ ही तीसरी लहर बच्चों पर ज्यादा अटैक करने वाली है ऐसा वैज्ञानिकों का कहना है. अगर इस लहर में बच्चे इनफेक्ट होते है, तो मां-बाप कैसे क्या करेंगे? अस्पताल में रहेंगे या क्या करेंगे? क्या प्लान है, वैक्सीनेशन करना चाहिए? हमें इसके साथ निपटने की जरूरत है. जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा कि हम यह नहीं कह रहे कि केंद्र की गलती है, हम चाहते है कि वैज्ञानिक ढंग से नियोजित ढंग से तीसरी लहर से निपटने की जरूरत है.

Supreme Court

अदालत ने केंद्र से पूछा सवाल, क्या है आपके पास प्लान?

जस्टिस चंद्रचूड़ शाह ने कहा, ‘अभी हम दिल्ली को देख रहे लेकिन ग्रामीण इलाकों का क्या, जहां ज़्यादातर लोग झेल रहे हैं, कोर्ट ने कहा आपको एक राष्ट्रीय नीति बनाने की जरूरत है, आप सिर्फ आज की स्थिति को देख रहे हैं लेकिन हम भविष्य को देख रहे है, उसके लिए आपके पास क्या प्लान है? शीर्ष अदालत ने कहा, ‘आप महामारी की दूसरे चरण में हैं और दूसरे चरण में भी कई मापदंड हो सकते हैं, लेकिन अगर हम आज तैयारी करते हैं, तो हम तीसरे चरण को संभाल सकेंगे.

Corona

सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर बच्चों के प्रभावित होने की कही बात

बता दें, इससे पहले बीजेपी नेता सुब्रमण्यन स्वामी ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर चौंकाने वाला दावा कर सबको हैरान कर दिया. स्वामी ने दावा किया, ‘देश में जब कोविड की तीसरी लहर आएगी, तो इसमें बच्चे भी प्रभावित होंगे. स्वामी ने ट्वीट करते यह बात कही है. प्रतिष्ठित यूनिवर्सिटी में पढ़े-पढ़ा चुके स्वामी को एक चिंतनशील नेता के तौर पर जाना जाता है. ऐसे में बिना किसी रिसर्च या स्टडी का जिक्र किए उनके व्यक्तिगत तथ्यों के आधार पर कही गई इस बात से देश में व्यापक स्तर पर लोगों में डर का माहौल पैदा होने की आशंका है. मालूम हो कि देश इस वक्त कोरोना की दूसरी लहर के कोहराम से परेशान है.

Corona

सरकार की ओर से भी तीसरी लहर जारी हो चुकी है चेतावनी

बता दें, मोदी सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के. राघवन ने बीते बुधवार को कोरोना की तीसरी लहर को लेकर दावा कर चुके है, उन्होंने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर निश्चित तौर आएगी, सरकार को इसके लिए तैयार रहना होगा, उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का प्रकोप जिस तरह से बढ़ रहा है, उसे देखते हुए कोरोना की तीसरी लहर को कोई नहीं रोक सकता. हालांकि, उन्होंने यह भी साफ किया कि यह कब आएगी और किसे इफेक्ट करेगी, इस बारे में अभी से कुछ नहीं कहा जा सकता.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here