श्रीलंकाई खिलाड़ी ने तोड़ा 40 साल पुराना भारतीय दिग्गज खिलाड़ी का रिकॉर्ड!

0
16
sri lanka cricketer

क्रिकेट जगत का हर मैच रोमांच से भरा रहता है और इस दौरान खिलाड़ियों का जोश भी देखने लायक होता है. क्योंकि हर खिलाड़ी का सपना होता है कि वो अपनी टीम को ना केवल जीत दिलाए बल्कि एक ऐसा रिकॉर्ड कायम करे जो आने वाली पीड़ी के लिए एक मिसाल बनें. मैच के दौरान कई रिकॉर्ड ऐसे बन जाते है जो हर खिलाड़ी के लिए तोड़ पाना मुमकिन नहीं होता है. फिर भी खिलाड़ी अपनी मेहनत में कोई कोर कसर नहीं छोड़ता है. दुनिया भर में तमाम ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने कई रिकॉर्ड अपने नाम किए है. जिसे कोई भूल नहीं सकता है. ऐसा ही एक रिकॉर्ड है शतकों का. मगर हम यहां पर बात शतकों की नहीं कर रहे हैं बल्कि शतक बनाने की कर रहे है. हालांकि एक खिलाड़ी है जिनसे बिना शतक लगाए रनों की बौछार की है और कई अर्धशतक लगाए है मगर आज तक एक भी शतक नहीं जड़ पाया है.

दरअसल, श्रीलंकाई निरोशन डिकवेला ऐसे खिलाड़ी है, जिन्होंने बल्लेबाजी करते काफी वक्त हो चुका है मगर आज भी वो टेस्ट मैच में शतक लगाने का इंतजार कर रहे है लेकिन हर बार शतक से चूक जाते है. इन सबके बीच उन्होंने भारतीय खिलाड़ी का 40 साल पुराना एक रिकॉर्ड तोड़ा है और एक नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है.

इन दिनों एंटीगुआ में श्रीलंका और वेस्टइंडीज के बीच टेस्ट मैच की सीरीज चल रही है. जहां पर दोनों टीमों के बीच पहला टेस्ट सीरीज खेला गया. इस टेस्ट मैच के चौथे दिन श्रीलंकाई ने दूसरी पारी में शानदार बल्लेबाजी करते हुए 476 रन बनाए और वेस्टइंडीज के सामने 375 रनों का विशाल लक्ष्य रखा है. इस स्कोर तक पहुंचाने में श्रीलंकाई के कई दिग्गद बल्लेबाजों का हाथ रहा. इन्ही में एक बल्लेबाज निरोशन डिकवेला है. हालांकि डिकवेला ने अपनी शानदार पारी खेली, मगर इस बार भी उन्हें पिछली बार की तरह शतक लगाने का मौका नहीं मिला और शतक के बेहद करीब पहुंचकर निराशा ही हाथ लगी और रन आउट हो गए.

भारतीय खिलाड़ी का 40 साल पुराना टूटा रिकॉर्ड

एंटीगुआ टेस्ट मैच के चौथे दिन निरोशन डिकवेला ने पतुम निसंका के साथ मिलकर 6वें विकेट के लिए 179 रनों की साझेदारी कर अपनी टीम के लिए विशाल स्कोर खड़ा किया. इस दौरान डिकवेला अपने शतक की ओर धीरे-धीरे बढ़ रहे थे ऐसा लग रहा था कि इस बार डिकवेला अपना पहला शतक पूरा कर लेंगे, लेकिन हर बार की तरह इस बार भी उनकी किस्मत ने धोखा दे दिया और 96 रन शानदार पारी खेलने के बाद उन्हें केमार रोच ने रन आउट कर दिया. एक बार फिर डिकवेला शतक बनाने से चूक गए, लेकिन उन्होंने एक रिकॉर्ड अपने नाम जरुर कर लिया.

डिकवेला का यह टेस्ट क्रिकेट में 17वां अर्धशतक था. डिकवेला ने टेस्ट क्रिकेट में बिना शतक बनाने सबसे ज्यादा अर्धशतक का रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया. यह रिकॉर्ड पहले भारतीय ओपनर चेतन चौहान के नाम पर था, जिन्होंने अपने टेस्ट करियर में 16 अर्धशतक लगाए थे.

डेब्यू कर रहे खिलाड़ी ने जमाया शतक

बता दें, इससे पहले भी जनवरी में खेले गए मैच के दौरान डिकवेला शतक के बेहद करीब आकर उसे पूरा नहीं कर सके थे. तब इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट की पहली पारी में वह 92 रन बनाकर आउट हुए थे. दूसरी तरफ, डिकवेला के साथ बेहतरीन साझेदारी करने वाले निसंका ने अपना पहला टेस्ट शतक जड़ दिया था. इसमें रोचक बात यह है कि निसंका का यह डेब्यू मैच है और करियर की दूसरी पारी में ही उन्होंने शतक जमा दिया. वहीं, 2014 में अपना टेस्ट डेब्यू करने वाले डिकवेला को 76 पारियों के बाद भी पहले शतक का इंतजार है.

ये भी पढ़ें –मनसुख हिरेन की हत्या के वक्त मौके-ए-वारदात पर मौजूद था सचिन वझे, जानिए मौत वाले दिन का सच!

Download- Local Vocal Hindi News App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here