जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव से पहले बढ़ जाएंगी सात सीटें, परिसीमन आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दी जानकारी

0
6

जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव से पहले परिसीमन आयोग की मार्च 2022 तक प्रक्रिया पूरी हो जाएगी. अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में परिसीमन के बाद सात सीटें बढ़ जाएगी. इसी के साथ 83 विधानसभा सीटों की जगह 90 सीटें हो जाएंगी. इसके बाद केंद्र शासित प्रदेश में अगले साल तक चुनाव कराए जा सकेंगे. यह जानकारी परिसीमन आयोग ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए दी है. परिसीमन आयोग में मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा के साथ चेयरपर्सन रंजना प्रकाश देसाई और के.के. शर्मा भी मौजूद रहे.

पहल थे 12 जिले, अब 20 जिले

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान परिसीमन आयोग के चेयरपर्सन रंजना प्रकाश देसाई ने कहा कि हमने जम्मू-कश्मीर के सभी जिलों के अधिकारियों से मुलाकात की है और उन्हें महत्वपूर्ण जानकारी दी है. इसी के साथ उन्होंने कहा कि पिछला परिसीमन साल 1995 और 1981 की जनगणना के आधार पर किया गया था. इस बार 2011 की जनगणना के आधार पर विधानसभा क्षेत्रों का परिसीमन किया गया है.

चेयरपर्सन रंजना प्रकाश देसाई कहा कि पिछले परिसीमन पर 12 जिले थे लेकिन अब साल 20 जिले है और तहसीलों की संख्या 58 से बढ़कर 270 हो गई है. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि आयोग के सदस्यों ने 290 से ज्यादा दलों और संगठनों से मुलाकात की, जिसमें 800 के आस-पास सदस्य थे. इन दलों ने परिसीमन पर खुशी जताई. वहीं, कुछ दलों ने राजनीतिक आरक्षण की भी मांग की.

सभी दलों की राय लेने के बाद तैयार होगा अंतिम ड्राफ्ट

परिसीमन आयोग के चेयरपर्सन रंजना प्रकाश देसाई ने कहा, 'सभी दलों और संगठनों की राय सुनने के बाद अंतिम ड्राफ्ट तैयार किया जाएगा, फिर उस ड्राफ्ट को सार्वजनिक किया जाएगा, उन्होंने कहा, 'हमारा उद्देश्य सभी को साथ लेकर चलना है, जिन दलों ने परिसीमन आयोग से दूरी बनाई, हम उनसे आग्रह करते हैं वो आए और हमसे मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here