गलवान घाटी संघर्ष में मारे गए 45 चीनी सैनिकों के सवाल पर रूसी समाचार एजेंसी TASS का खुलासा

0
93

पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में 15 जून हुई खूनी हिंसा में कितने चीनी सैनिक मारे गए थे, इसको लेकर कई तरह के सवाल उठ रहे थे, लेकिन अब रूसी समाचार एजेंसी तास ने बड़ा खुलासा किया है. तास ने बताया कि इस हिंसा में कम से कम 45 चीनी सैनिक मारे गए थे. इस हिंसा में 20 भारतीय जवान शहीद हो गए थे. चीन ने अभी तक यह नहीं बताया कि उसके कितने सैन‍िक मारे गए थ.। रूसी समाचार एजेंसी ने यह खुलासा ऐसे समय पर किया है जब दोनों देश अपनी सेना को पैंगोंग झील से हटाने पर सहमत हो गए हैं.


लद्दाख में चल रहे तनाव को देखते हुए दोनों ही देशों ने करीब 50-50 हजार सैनिकों को तैनात कर रखा है. इससे पहले चीन ने भारत के साथ बैठक में बताया था कि गलवान घाटी संघर्ष में उसके 5 सैनिक मारे गए थे. इसमें चीनी सेना का एक कमांडिंग ऑफिसर भी शामिल था. चीन भले ही अभी 5 सैनिकों के ही मारे जाने की बात रहा हो लेकिन अमेरिकी और भारतीय खुफिया एजेंसियों का अनुमान है क‍ि कम से कम 40 चीनी सैनिक इस हिंसा मारे गए थे.


चीन ने डर से नहीं बताया था मौतों का आंकड़ा

बता दें कि गलवान हिंसा के समय भारत ने जहां अपने सैनिकों के मारे जाने की संख्‍या बताई, वहीं चीन ने अब तक उस पर चुप्‍पी साधे रखा था. साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्‍ट की रिपोर्ट के मुताबिक उस समय चीन और अमेरिका के बीच एक अहम बैठक होनी थी, इस‍को देखते हुए चीन ने पूरी घटना को कम करके दिखाने की कोशिश की. इसी रणनीति के तहत चीन ने अपने हताहत सैनिकों की संख्‍या को जारी नहीं किया और पूरे मामले पर चुप्‍पी साधे रहा. इस बीच पीएलए के एक सोर्स ने बताया कि पेइचिंग अपने सैनिकों की मौत को लेकर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here