कर्नाटक की रश्मि सामंत ने रचा इतिहास, ऑक्सफर्ड स्टूडेंट यूनियन की बनी पहली भारतीय महिला अध्यक्ष

0
208

कर्नाटक के मनिपाल की रश्मि सामंत ऑक्सफर्ड स्टूडेंट यूनियन की अध्यक्ष चुनी गई हैं. रश्मि सामंत पहली ऐसी भारतीय महिला हैं जिन्होंने लंदन की ऑक्सफर्ड यूनिवर्सिटी में यह पद हासिल किया है. मनिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नॉलजी (एमआईटी) की पूर्व छात्रा को बाकी तीन प्रतिभागियों को मिले कुल वोटों से भी ज्यादा वोट मिले हैं.

रश्मि सामंत ऑक्सफर्ड विश्वविद्यालय के लिनकेयर कॉलेज में Energy Systems में एमएससी की छात्रा हैं. रश्मि ने चार मुख्य प्राथमिकताओं को केंद्र में रखकर अध्यक्ष के पद के लिए चुनाव लड़ा जिसमें उसकी भारी सफलता मिली है.

साम्राज्यवादियों की मूर्ति हटाने की पैरवी

अपने मेनिफेस्टो के अनुसार, रश्मि यूनिवर्सिटी और कॉलेज कॉन्फ्रेंस से उन सभी पर्सनैलिटीज की मूर्तियों को हटाने की पैरवी करने का इरादा रखती हैं जो साम्राज्यवादी थे. इनमें क्रिस्टोफर कॉडरिंगटन भी शामिल हैं. रश्मि ने महामारी खत्म होने तक रिहायशी जरूरतों को माफ करने की मांग भी की है.


रश्मि को मिले 1,966 वोट
रश्मि को अध्यक्ष पद के लिए डाले गए 3,708 मतों में से 1,966 वोट मिले, जो बाकी उम्मीदवारों से सबसे अधिक थे. इस साल ऑक्सफर्ड के चुनाव में रेकॉर्ड 4,881 छात्रों ने वोट किया और सभी कैटिगरी में कुल 36,405 वोट पड़े.

पिता बिजनसमैन, मां होममेकर

वत्सला और दिनेश सामंत की बेटी रश्मि ने मणिपाल और उडुपी से अपनी स्कूलिंग की. उनके पिता दिनेश परकला में बिजनसमैन हैं जबकि मां वत्सला होममेकर हैं. उन्होंने मणिपाल इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (2016-2020 बैच), मणिपाल में स्नातक की पढ़ाई पूरी की. रश्मि MIT, मणिपाल में Student Council की तकनीकी सचिव थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here