गुरूग्राम: पटौदी महापंचायत में भड़काऊ भाषण देने वाला ‘रामभक्त गोपाल’ गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला

0
40

हरियाणा पुलिस ने भड़काऊं भाषण देने वाले रामभक्त गोपाल शर्मा को बीते सोमवार को गिरफ्तार कर लिया है. बता दें, 4 जुलाई को गुरूग्राम के पटौदी में हुई महापंचायत के दौरान गोपाल शर्मा ने भड़काऊं भाषण दिया था. इससे पहले भी गोपाल शर्मा पिछले साल दिल्ली के जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के पास नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों पर फायरिंग को लेकर सुर्खियों में आया था. गोपाल खुद को रामभक्त कहता है, इसलिए उसकी गिरफ्तारी के बाद सोशल मीडिया पर Ram Bhakt Gopal ट्रेंड कर रहा है.

गोपाल की गिरफ्तारी गुरुग्राम के पटौदी में धर्म परिवर्तन, लव जिहाद आदि को लेकर हुई महापंचायत में मुसलमानों के खिलाफ भड़काऊ बयान देने को लेकर हुई है. उसके खिलाफ दिनेश नाम के एक शख्स ने केस दर्ज करवाया था. 4 जुलाई को हुई इस महापंचायत में शामिल हुए गोपाल का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वह मुसलमानों के खिलाफ लोगों को हिंसा के लिए उकसाता दिखाई दे रहे हैं.

दामिया गोलीकांड में पहली बार गोपाल शर्मा यूपी को गौतमबुद्धनगर जिले के जेवर का रहने वाला है और बताया जाता है कि उसके पिता गांव में ही पान की दुकान चलाते हैं. जामिया में फायरिंग के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया था, हालांकि नाबालिग होने की वजह से उसके बाल सुधार गृह भेज दिया गया था. जिसके बाद वो फिलहाल जमानत पर बाहर था. सोमवार देर रात सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर गोपाल की गिरफ्तारी को लेकर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया. कोई गोपाल का साथ देने के बात कहा रहा था, तो कोई भड़काऊ भाषण के लिए उसकी गिरफ्तारी को सही बता रहा था. ट्विटर पर रामभक्त गोपाल ट्रेड भी करने लगा. यूजर्स उसकी गिरफ्तार को लेकर लगातार ट्वीट करते दिखे.

लाला नाम के एक यूजर ने ट्वीट किया, राम भक्त गोपाल को मुसलमानों के खिलाफ भड़काऊ भाषण देने के कारण गिरफ्तार किया गया, लेकिन सर तन से जुदा (सर काटने) और भगवान का अपमान करने वाले अमानतुल्लाह खान और मुनव्वर फारूकी अभी तक बाहर हैं. जोकर 420 नाम के अन्य यूजर ने लिखा, 'महाराष्ट्र सरकार ने शरजील उस्मानी को गिरफ्तार नहीं किया, लेकिन बीजेपी सरकार ने राम भक्त गोपाल को गिरफ्तार कर लिया। वाह बीजेपी वाह'

वहीं कुछ यूजर्स गोपाल की गिरफ्तारी का समर्थन करते दिखे, लेकिन उसे जल्द बेल मिलने की भी आशंका जताई. आरिफ किरोड़ी नाम के एक शख्स ने ट्वीट किया, 'मुस्लिम समुदाय के खिलाप जहर उगलने वाले राम भक्त गोपाल को हरियाणा पुलिस ने गिरफ्तार किया है. उसके जैसे नफरत फैलाने वाले लोगों को जल्द बेल मिल जाती है, लेकिन राजनीतिक बंदियों को बेल के लिए संघर्ष करना पड़ता है.'

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here