यीशु ही असली भगवान, शक्ति जैसे नहीं! विवादित बयान देने वाले पादरी से राहुल ने की मुलाकात, भाजपा भड़की

0
105

कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नेतृत्व में शुरू हुई पार्टी की ‘भारत जोड़ो यात्रा’ विवादों में घिर गई है. दरअसल, बीते शुक्रवार को राहुल गांधी ने तमिलनाडु के कन्याकुमारी जिले में एक विवादास्पद कैथोलिक पादरी जॉर्ज पोन्नैया से मुलाकात की. जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है. पोन्नैया पर हिंदुओं के खिलाफ भड़काऊ बयान देने का आरोप लग चुका है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह जैसे कई बड़े नेताओं के खिलाफ अभद्र भाषा के इस्तेमाल पर उनकी गिरफ्तारी भी हो चुकी है. वहीं इस मुलाकात के दौरान राहुल ने पादरी से ऐसा सवाल पूछा, जिसको लेकर अब भाजपा उन पर हमलावर है.

दरअसल, वीडियो में राहुल गांधी पादरी से पूछते नजर आ रहे कि क्या यीशु मसीह भगवान का एक रूप हैं? क्या ये सही है? जिस पर पादरी जॉर्ज पोन्नैया ने जवाब दिया कि वो ही असली भगवान हैं. पोन्नैया ने आगे कहा- गॉड ने खुद को एक मानव के रूप में प्रकट किया है, एक वास्तविक इंसान, किसी शक्ति की तरह नहीं, इसलिए हम उनकी शख्सियत को एक मानव के तौर पर देखते हैं. पादरी के इस बयान के बाद से मुलाकात पर राजनीति शुरू हो गई है.

भाजपा प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने ट्वीट कर लिखा कि जॉर्ज पोन्नैया ने राहुल से मुलाकात के दौरान कहा कि शक्ति (और अन्य हिंदू देवताओं) के विपरीत यीशु ही एकमात्र ईश्वर हैं. इस आदमी को पहले उसके हिंदू विरोधी भाषण के लिए गिरफ्तार किया गया था. उसने उस वक्त कहा था कि मैं जूते पहनता हूं, क्योंकि मैं नहीं चाहता भारत माता की अशुद्धियां हमें दूषित करें. उन्होंने अंत में लिखा कि भारत तोड़ो आइकन के साथ भारत जोड़ो?

वहीं, राहुल के बचाव में पूर्व केंद्रीय मंत्री जयराम रमेश ने ट्वीट कर लिखा कि भाजपा की हेट फैक्ट्री एक घटिया ट्वीट वायरल करने का प्रयास कर रही है. ऑडियो में जो कुछ भी रिकॉर्ड किया गया है, उससे इसका कोई संबंध नहीं है. ये भाजपा की राजनीति का तुच्छ तैराकी है. ‘भारत जोड़ो यात्रा’ की सफल शुरुआत देखकर भाजपा हताश हो गई है, ऐसे में वो ये सब कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here