राष्ट्रपति चुनावः द्रौपदी मुर्मू ने भरा नामांकन, सोनिया, पवार और ममता से मांगा समर्थन

0
30

18 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए NDA प्रत्याशी द्रौपदी मुर्मू ने 24 जून (शुक्रवार) को अपना नामांकन दाखिल कर दिया है. कांग्रेस की अतंरिम राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी, NCP चीफ शरद पवार और पंश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से फोन पर बात करके राष्ट्रपति चुनाव में अपने लिए उनकी पार्टी का समर्थन मांगा है.

मिली जानकारी के मुताबिक द्रौपती मुर्मू ने राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन भरने से पहले सोनिया गांधी, शरद पवार और ममता बनर्जी के अलावा अन्य कई विरोधी दलों के नेताओं से बात कर राष्ट्रपति चुनाव में अपने लिए उनकी पार्टी का समर्थन मांगा है.

बता दें, कांग्रेस, NCP और TMC पहले ही अन्य विरोधी दलों के साथ मिलकर राष्ट्रपति चुनाव के लिए विरोधी दलों के संयुक्त उम्मीदवार के रूप में यशवंत सिन्हा के नाम का ऐलान कर चुकी है. कई विरोधी दलों की तरफ से राष्ट्रपति पद के लिए संयुक्त उम्मीदवार के तौर पर यशवंत सिन्हा 27 जून को नामांकन करने की तैयारी भी कर रहे हैं.

द्रौपदी मुर्मू ने 24 जून (शुक्रवार) को राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन दाखिल कर दिया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उनके प्रस्तावक बने हैं. नामांकन के दौरान ही शक्ति प्रदर्शन कर भाजपा ने यह साबित कर दिया है कि उनके पास अपने उम्मीदवार को राष्ट्रपति बनाने के लिए पर्याप्त नंबर है, लेकिन इसके बावजूद प्रमुख विपक्षी दलों के नेताओं से समर्थन मांगकर भाजपा ने एक बड़ा राजनीतिक संदेश देने की कोशिश की है.

वहीं, संसद भवन में द्रौपदी मुर्मू के नामांकन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, प्रल्हाद जोशी, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा शर्मा, हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल और गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सांवत के अलावा भाजपा शासित अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री, मोदी सरकार के कई मंत्री, सांसद और भाजपा के दिग्गज नेता मौजूद रहे, उनके नामांकन के दौरान JDU के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह और अपना दल-एस की अनुप्रिया पटेल के अलावा NDA के घटक दलों के नेता भी मौजूद रहे. राष्ट्रपति पद के लिए द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने का ऐलान कर चुके बीजू जनता दल और YSR कांग्रेस के नेता भी उनके नामांकन के दौरान मौजूद रहे.

बता दें, राष्ट्रपति पद के लिए नामांकन की आखिरी तारीख 29 जून है. देश के नए राष्ट्रपति के लिए 18 जुलाई को चुनाव होना है और वोटों की गिनती 21 जुलाई को होगी. चुनाव में मुख्य मुकाबला NDA उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और विपक्षी दलों के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के बीच होना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here