बंगाल चुनाव: एग्जिट पोल में बीजेपी की 100 सीटें पार, अब क्या करेंगे प्रशांत किशोर!

0
45
Bengal Election

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के 8वें और आखिरी चरण की वोटिंग के कुछ देर बाद आए एग्जिट पोल रिपोर्ट ने रणनीतिकार प्रशांत किशोर को मुश्किलों में डाल दिया है। दरअसल, पश्चिम बंगाल चुनाव को लेकर प्रशांत किशोर ने भविष्यवाणी की थी कि बीजेपी तीन अंक का आंकड़ा पार नहीं कर पाएगी और अगर ऐसा होता है तो वह चुनावी रणतीति बनाना छोड़ देंगे। इस लिहाजे से देखें तो लगभग सभी एग्जिट पोल बीजेपी को 100 से ऊपर की सीटें दे रहे हैं। एग्जिट पोल के नतीजों पर नजर डालें तो बीजेपी दमदार प्रदर्शन करती दिखाई दे रही है। अब इन एग्जिट पोल के साथ एक सवाल भी राजनीतिक गलियारों में हिचकोले मरने लगी है। 2 मई के बाद प्रशांत किशोर क्या करेंगे?

Bengal Election

प्रशांत किशोर के दावों को एग्जिट पोल ने लगाई सेंध

बता दें, बीते गुरुवार देर शाम आए एग्जिट पोल की रिपोर्ट के मुताबिक बंगाल में टीएमसी और बीजेपी के बीच कड़ी टक्कर दिख रही है। हालांकि, दो बातें सभी एग्जिट पोल में समान दिख रही हैं। पहली कांग्रेस-लेफ्ट गठबंधन की दुर्गति और दूसरी चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर का दावा फेल होना। यहां कतई नहीं ऊलना चाहिए कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर कई बार सार्वजनिक रूप से इस बात का ऐलान कर चुके हैं कि यदि बीजेपी की सीटें 100 के पार हुईं तो वह अपना काम छोड़ देंगे।

Bengal Election

मालूम हो कि पहली बार जब प्रशांत किशोर ने ट्विटर पर यह ऐलान किया तो आईपैक के उनके कुछ सहयोगियों ने दावा किया कि पीके ट्विटर छोड़ने की बात कर रहे हैं, लेकिन हाल ही में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर के सलाहकार बने प्रशांत किशोर ने एक न्यूज चैनल से इंटरव्यू में साफ किया था कि वह चुनावी रणनीतिकार का काम छोड़ देंगे, उन्होंने कहा था कि यदि बीजेपी की 100 से सीटें आती हैं तो उनके काम का कोई मतलब नहीं रह जाता है। उन्होंने कहा था कि मैं जो भी काम कर रहा हूं, जिसकी वजह से आप मुझसे बात कर रहे हैं, रणनीतिकार कह रहे हैं, कोई कुछ और कहता है, जो भी मैं काम कर रहा हूं उसका कोई मतलब नहीं रह जाता है, यदि बीजेपी की यहां 100 से ज्यादा सीटें आती हैं।

Bengal Election

क्या प्रशांत किशोर लेंगे संन्यास?

एग्जिट पोल का दावा है कि पश्चिम बंगाल में 10 सालों से सत्ता पर काबिज ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस एक बार सरकार बनाने में कामयाब हो जाएगी, तो वहीं पिछले चुनाव में महज 3 विधायकों वाली भारतीय जनता पार्टी को बड़ा फायदा होता दिख रहा है। सभी एग्जिट पोल्स में बीजेपी को 100 के पार दिखाया गया है तो 4 एग्जिट पोल्स में उसे बहुमत से लेकर बंपर सीटें तक मिलने का अनुमान जताया गया है। इसके साथ ही यह सवाल उठना शुरू हो गए हैं कि क्या प्रशांत किशोर भविष्य में चुनावी रणनीतिकार की भूमिका में नजर आएंगे या फिर अपने दावे के मुताबिक बीजेपी के 100 से ज्यादा सीटें जीतने पर अपनी इस भूमिका से संन्यास ले लेंगे?

ये भी पढ़ें –फेफड़े ही नहीं बल्कि ये अंग भी है कोरोना की चपेट में, जानिए

Download- Local Vocal Hindi News App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here