पाकिस्तानी मुस्लिम गैंग ब्रिटेन में हिंदुओं को बना रही निशाना! एक शख्स पर चाकू से किया हमला

0
30

1947 में हिंदुस्तान से अलग होकर पाकिस्तान मुल्क का जन्म हुआ, लेकिन नया देश बनते ही पाकिस्तान को हिंदुस्तान से नफरत सी हो गई और हिंदुओं के खिलाफ पाकिस्तान कोई भी मौका नहीं छोड़ना चाहता है वजह चाहे जो भी हो. मौका परस्त पाकिस्तान अक्सर हिंदुओं के खिलाफ जहर ही उगलता रहता है. दुनिया में कहीं भी हिंदु रह रहे हो, वो उनपर हमला करने से बाज नहीं आता है. ये हम इसलिए कह रहे है क्योंकि इन दिनों पाकिस्तानी मुस्लिम विदेश में रहने वाले हिंदुओं पर हमला कर रहा है.

दरअसल, पिछले कई दिनों से ब्रिटेन के लीसेस्टर में पाकिस्तानी मुस्लिम गैंग बनाकर हिंदुओं पर टारगेट हमला कर रहे है. इसका कई वीडियो भी सामने आ चुका है. इन वीडियो में पाकिस्तानी मुस्लिम गैंग बनाकर हिंदुओं के घरों के आगे तोड़फोड़ कर रहे है. एक वीडियो में दिख रहा है कि एक शख्स के घर के आगे लगे केसरिया झंडे को उखाड़ कर ले जा रहा है. वहीं, एक महिला खिड़की से चिल्ला कर इसका विरोध कर रही है. तो वहीं एक शख्स पर चाकू से हमले की भी कोशिश की गई.

मिली जानकारी के मुताबिक हिंदुओं को निशाना बनाए जाने के पीछे दुबई में हुए भारत-पाकिस्तान का क्रिकेट मैच बताया जा रहा है. खबरों की माने, तो 28 अगस्त को भारत और पाकिस्तान के बीच खेले गए मैच में भारत की जीत के बाद सारा विवाद शुरू हुआ. एक रिपोर्ट के मुताबिक बेलग्रेव रोड पर रेस्टोरेंट चलाने वाले धर्मेश लखानी ने कहा था, ‘जीत के बाद सेलिब्रेशन सही चल रहा था, लेकिन तभी खबर आई कि किसी भी भारत के झंडे पर भारत विरोधी स्टांप लगा दिया है. भारतीय फैंस को लगा कि ये कोई पाकिस्तानी है, जिसके बाद पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगे. इस कारण पाकिस्तानी और भारतीय फैंस आपस में भिड़ गए. ये कहना बिल्कुल बकवास है कि हमला हिंदुओं के ग्रुप ने किया.’

हालांकि विवाद बढ़ता देखकर ब्रिटेन पुलिस ने लीसेस्टर और आस-पास के इलाकों में विशेष रोक और तलाशी अभियान की शुरूआत कर दी है. आसामाजिक व्यवहार, अपराध और पुलिस अधिनियम 2014 की धारा 34 और 35 के तहत मुख्य अधीक्षक एडम स्लोनेकी ने अधिकारियों को निर्देश दिया है कि 16 साल से कम के युवाओं को उनके घरों पर वापस छोड़ा जाए. ये नोटिस 48 घंटे के लिए जारी किया गया है. नोटिस का उल्लंघन करने पर गिरफ्तारी हो सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here