सुबह की खास खबरें @07.07.2021

0
21

मोदी के दूसरे कार्यकाल का पहला कैबिनेट विस्तार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दूसरे कार्यकाल का पहला मंत्रिमंडल का विस्तार करने जा रहे है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आज शाम 5.30 बजे से 6.30 बजे के बीच नए मंत्री शपथ लेंगे. बता दें, केंद्रीय मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त करने के साथ ही यह साफ हो गया है कि मोदी मंत्रिमंडल में बड़ा फेरबदल और विस्तार होने वाला है. जिसमें करीब 17-22 मंत्रियों को शामिल किया जा सकता है, साथ ही कुछ पुराने चेहरों को भी हटाया जा सकता है. मंत्रिमंडल में शामिल होने वाले नेताओं में मध्यप्रदेश से ज्योतिरादित्य सिंधिया, महाराष्ट्र से नारायण राणे और असम से सर्बानंद सोनोवाल, उत्तर प्रदेश से अनुप्रिया पटेल, बिहार से जदयू नेता आरसीपी सिंह का नाम सामने आ रहा है. वहीं, ऐसा माना जा रहा है कि मोदी मंत्रिमंडल में युवाओं को खास तौर पर तरजीह दी जाएगी.

RT-PCR जांच तय होगा कौन लेगा शपथ, कौन नहीं

मोदी मंत्रीमंडल विस्तार में कौन-कौन सा चेहरा शामिल होने जा रहा है. यह RT-PCR टेस्ट तय करेगा. प्रधानमंत्री की सुरक्षा प्रोटोकॉल के लिए इस टेस्ट को पास करना जरूरी है. दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने नए मंत्रियों की लिस्ट फाइनल कर दी है, लेकिन इस लिस्ट के सभी लोगों को RT-PCR टेस्ट से गुजरना होगा, अगर टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आ गई तो शपथ में शामिल नहीं हो सकेंगे. क्योंकि RT-PCR टेस्ट की रिपोर्ट आने में करीब 12 घंटे का समय लगता है. इसलिए सभी संभावित चेहरों को एक दिन पहले ही दिल्ली बुला लिया गया है ताकि समय से टेस्ट रिपोर्ट आ सके.

पहली बार एक साथ 8 राज्यों के बदले गए गवर्नर

मोदी मंत्रिमंडल विस्तार से ठीक एक दिन पहले मंगलवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पहली बार एक साथ आठ राज्यपालों की नियुक्ति की. केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गहलोत को कर्नाटक का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. 73 वर्षिय थावरचंद गहलोत 2014 से ही मोदी कैबिनेट में शामिल रहे हैं. जबकि हरि बाबू कंभमपति को मिजोरम, मंगूभाई छगनभाई पटेल को मध्य प्रदेश का राज्यपाल और राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर को हिमाचल प्रदेश का राज्यपाल नियुक्त किया है. मिजोरम के राज्यपाल पीएस श्रीधरन पिल्लई को गोवा के राज्यपाल, हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य को त्रिपुरा के राज्यपाल, त्रिपुरा के राज्यपाल रमेश बैस को झारखंड के राज्यपाल और हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय को हरियाणा के राज्यपाल के रूप में नियुक्त किया गया.

9 महीने बाद GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ से नीचे फिसला

9 महीने में पहली जीएसटी कलेक्शन एक लाख करोड़ रुपए के नीचे पहुंच गया है. जून महीनें में जीएसटी कलेक्शन 92,849 करोड़ रुपए पर आ गया है, जो मई में 1.02 लाख करोड़ रुपए था, वित्त मंत्रालय के मुताबिक पिछली बार सितंबर 2020 में जीएसटी कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपए से नीचे रहा था. सितंबर 2020 में जीएसटी कलेक्शन 95,480 करोड़ रुपए पर रहा था. वित्त मंत्रालय की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक कोरोना की नई लहर के कारण अर्थव्यवस्था पर साफ-साफ असर दिखाई दिया है. जून महीने में कुल जीएसटी कलेक्शन 92,849 करोड़ रुपए रहा है. इसमें CGST कलेक्शन 16,424 करोड़, SGST 20,397 करोड़ और IGST 49,079 करोड़ रहा है. IGST में 25,762 करोड़ इंपोर्ट गुड्स पर लगने वाले टैक्स से आए हैं. जून के महीने में सेस कलेक्शन 6,949 करोड़ रहा जिसमें 809 सेस इंपोर्टेड गुड्स से आए हैं.

JEE मेन 2021 एग्जाम 20 से 25 जुलाई के बीच

कोरोना महामारी के चलते स्थगित संयुक्त प्रवेश परीक्षा मेंस (JEE Main) के तीसरे और चौथे चरण के तारीखों का ऐलान हो गया है. JEE Main के तीसरे चरण की परीक्षा 20 और 25 जुलाई को होगी. वहीं, चौथे चरण की परीक्षा 27 जुलाई से 2 अगस्त के दौरान होगी. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने मंगलवार को इसकी घोषणा की. IIT, NIT, जैसी संस्थाओं में दाखिले के लिए अप्रैल और मई में होने वाली JEE Main की तीसरे और चौथे चरण की परीक्षा कोरोना महामारी के कारण स्थगित कर दी गई थी, उन्होंने बताया कि इस बार परीक्षा केंद्रों की संख्या दोगुनी कर दी गई है, ताकि कोविड दिशानिर्देशों का पालन किया जा सके. इन दो चरणों की परीक्षा का परिणाम अगस्त में जारी हो सकता है.

रूस में पहाड़ से टकराया एयरक्राफ्ट, 28 की मौत

रूस में मंगलवार को पहाड़ की चोटियों से टकराकर एक विमान समंदर में समा गया. हादसे में 28 लोगों की मौत हो गई. रूसी सरकारी मीडिया के मुताबिक, मरने वालों में 22 यात्री और 6 क्रू मेंबर्स शामिल हैं. स्थानीय मीडिया ने बताया कि, यह छोटा विमान रूस के कामचाट्का प्रायद्वीप के छोटे से गांव पालना में उतरने की तैयारी कर रहा था. लैंड करने से करीब 10 किलोमीटर पहले विमान का एयर ट्रैफिक कंट्रोलर (ATC) से संपर्क टूट गया. बाद में पालना एयरपोर्ट से 4 किमी पहले समंदर में विमान का मलबा मिला. दुर्घटना स्थल पर एक Mi8 हेलिकॉप्टर के साथ रेस्क्यू टीम को भेजा गया है.

अनलॉक में मनमानी पर सरकार की चेतावनी

देश में कोरोना के मामले कम होने पर केंद्र और राज्य सरकारों ने पाबंदियों में ढील देनी शुरू कर दी. अनलॉक का असर ये हुआ कि कई लोग मनमानी करने लगे. बाजारों और टूरिस्ट प्लेस में भीड़ दिखाई देने लगी है. हालात ऐसे बने कि सरकार को इस पर चिंता जतानी पड़ गई. जॉइंट सेक्रेटरी लव अग्रवाल ने कोरोना के हालात पर होने वाली नियमित प्रेस कॉन्फ्रेंस में मंगलवार को कहा कि कोरोना की दूसरी लहर सीमित दायरे में ही सही, लेकिन अब भी मौजूद है. हिल स्टेशनों पर भारी भीड़ का जिक्र कर उन्होंने कहा कि ऐसा करना अब तक के फायदे को कम कर सकता है. यदि प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया जाता है तो हम पाबंदियों में दी गई ढील को फिर से खत्म कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here