मुरादाबादः धार्मिक स्थल पर मूर्ति खंडित करने पर भिड़े दो समुदाय, जमकर चले लाठी-डंडे, पुलिस बल तैनात

0
18

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले में हिंदू विरोधी बातों के लेकर दो समुदाय के बीच विवाद हो गया. पहले दोनों समुदाय के बीच कहासुनी हुई और फिर बाद में विवाद इतना बढ़ गया कि दोनों तरफ से जमकर लाठी-डंडे चले. मामला डिलारी थाना क्षेत्र के सलेमसराय गांव का है, जहां पर बीती रात (शुक्रवार) को हिंदू विरोधी बातें करने पर पहले हाथापाई शुरू हुई और देखते ही देखते दो समुदाय आपस में भिड़ गए. इस आपसी भिड़ंत में एक महिला समेत 5 लोग घायल हो गए. हालांकि पुलिस ने इस मामले में 14 नामजद और 60 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है और तीन लोगों को गिरफ्तार भी किया है.

मिली जानकारी के मुताबिक पूरा विवाद एक विशेष समुदाय के लड़कों द्वारा हिंदू विरोधी बातें करने के कारण हुआ. मुहम्मद आकीब पर पूरे विवाद का कारण बताया गया है. सलेमपुर सराय गांव के ही निवासी करण सिंह ने थाने में शिकायत दर्ज कराई है. करण सिंह ने पुलिस को बताया कि उनके भतीजे रमेश ने दो दिन पहले पांच सौ रुपए किराए पर अपनी दुकान गांव के ही मुहम्मद अली को दी थी. गुरुवार को करण का दूसरा भतीजा मोनू दवा लेने के लिए मेडिकल स्टोर पहुंचा था, जहां पर मुहम्मद आकीब बैठा था और अपने साथियों के साथ हिंदू समाज विरोधी बातें कर रहा था. इसका विरोध करने पर मेडिकल स्टोर संचालक और उसके साथियों ने मोनू पर लोहे की रॉड से हमला कर दिया. जब अन्य लोगों ने बचाने की कोशिश की, तो दूसरे पक्ष के लोगों ने उन पर भी हमला कर दिया. मारपीट के दौरान दीपक, मोनू, विकास, सावित्री देवी व कमल को गंभीर चोटें लगीं. इस दौरान हमलावर एकजुट धार्मिक नारेबाजी करते हुए धार्मिक स्थल में घुस गए और एक मूर्ति को खंडित कर दिया.

सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. डिलारी विवाद के संबंध में एसपी मुरादाबाद ने एक बयान में कहा कि दो पक्षों के बीच, कहासुनी और मारपीट की घटना के मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

दो संप्रदाय के लोगों के बीच विवाद के बाद एसपी देहात विद्यासागर मिश्र ने गांव का दौरा किया और दोनों पक्षों से विवाद को सुलझाने की अपील किया. फिलहाल, तनाव को देखते हुए मौके पर पुलिस के साथ ही पीएसी बल को भी तैनात किया गया है. वहीं लापरवाही बरतने पर ASP हेमंत कुटियाल ने देर रात डिलारी थाना प्रभारी सुरेंद्र कुमार को लाइनहाजिर कर दिया.

बता दें, इस गांव में पहले भी विवाद की घटनाएं सामने आई हैं. कुछ सालों पहले, मोहर्रम के जुलूस को दो संप्रदाय आमने-सामने आ गए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here