सरकारी क्वार्टर में पकड़े गए युगल पुलिसकर्मी और महिला कॉस्टेबल, मद्रास हाईकोर्ट ने कहा आगे क्या!

0
219

हमारे समाज की सोच इतनी बदल गई है कि अगर कोई महिला और पुरुष एक साथ बंद कमरे में पाए जाते हैं तो ज्यादार लोग उन्हें गलत निगाहों से देखते है और अपनी राय रखने में जरा सी भी देरी नहीं करते हैं. ऐसा ही एक मामला सामने तमिलनाडु का सामने आया है जहां पर पुलिसकर्मी को अपनी नौकरी तक गवां पड़ गई. वहीं पुलिसकर्मी ने विभागीय कार्रवाई के खिलाफ अदालत का दरवाजा खटखाया. दरअसल, तमिलनाडु पुलिस में तैनात एक पुलिसकर्मी और महिला कॉस्टेबल को नौकरी से इस लिए बर्खास्त कर दिया गया क्योंकि दोनों पुलिसकर्मी सरकारी क्वार्टर में बंद कमरे में पाए गए.

वहीं, मद्रास हाईकोर्ट ने मामले की सुनवाई करते हुए पुलिसकर्मी के खिलाफ हुई विभागीय कार्रवाई को निधार बताया है. हाईकोर्ट के जस्टिस सुरेश कुमार ने केस की सुनवाई करते हुए कहा, पुरुष और महिला बंद कमरे में अकेले मिलते हैं, तो जरुरी नहीं कि वो अनैतिक संबंध बना रहे हों. समाज में प्रचलित इस तरह के अनुमान के आधार पर किसी भी व्यक्ति के ऊपर अनुशासनात्मक कार्रवाई नहीं की जा सकती.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here