एंबुलेंस मालिकों की मनमानी पर केजरीवाल सख्त, किराया निर्धारित

0
13
Delhi govt.

देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच एंबुलेंस मालिकों की मनमानी भी शुरू हो गई है. दिल्ली में एंबुलेंस मालिकों की मनमानी पर केजरीवाल सरकार ने सख्त कदम उठाए हैं. सरकार ने एंबुलेंस का किराया निर्धारित कर दिया है. वहीं सरकार ने यह भी स्पष्ट किया है कि अगर कोई भी एंबुलेंस मालिक या चालक निर्धारित किराये से ज्यादा पैसा लेता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई भी की जाएगी. दिल्ली सरकार ने यह फैसला एंबुलेंस मालिकों के खिलाफ लगातार आ रही शिकायतें और मरीजों को 24 घंटे एंबुलेस उपलब्ध कराने के लिए लिया है.

Delhi govt.

वसूल रहे हैं मनमाना किराया

दरअसल, शवों को श्ममान घाट और कब्रिस्तान पहुंचाने के लिए प्राइवेट एंबुलेंस मृतकों के परिजनों से मनमाना किराया वसूल रहे हैं. वहीं कोरोना संक्रमितों को अस्पताल ले जाने के लिए भी मोटी रकन वसूल रहे हैं. कुछ ही दूरी के लिए भी एंबुलेस चालकों और मालिकों की ओर से हजारों रूपए किराया लिया जा रहा है. इस कारण दिल्ली सरकार ने एंबुलेंस मालिकों के खिलाफ सख्त कदम उठाएं हैं.

Delhi govt.

इतना निर्धारित किया गया है किराया

दिल्ली सरकार ने दिल्ली में मरीज ट्रांसपोर्ट एंबुलेंस के लिए प्रति 10 किलोमीटर के लिए 15 सौ रुपए किराया निर्धारित किया है. वहीं 10 किलोमीटर से अधिक जाने के लिए 100 रुपए प्रति किलोमीटर देना होगा. बेसिक लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस का इस्तेमाल करने पर शुरुआती 10 किलोमीटर के लिए 2,000 रुपए किराया देना होगा. इसके बाद 100 रुपए प्रति किलोमीटर के हिसाब से एंबुलेंस का किराया देना होगा. एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस जिसमें कि डॉक्टर का चार्ज भी शामिल है. उसके लिए प्रति 10 किलोमीटर का किराया 4,000 रुपए तय किया गया है. 10 किलोमीटर के बाद इस एंबुलेंस सेवा के लिए भी 100 रुपए प्रति किलोमीटर की दर से किराया देना होगा.

Delhi govt.

अब नहीं चलेगी एंबुलेंस मालिकों की मनमानी

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने किराया तय करते हुए कहा कि हमारे संज्ञान में आया है कि दिल्ली में प्राइवेट एंबुलेंस सेवाएं नाजायज रुप से किराया वसूल रही हैं. इससे बचने के लिए दिल्ली सरकार ने अधिकतम किराया तय कर दिया है. उन्होंने कहा कि अगर इसके बावजूद कोई भी एंबुलेंस चालक या मालिक मरीजों से मनमाना किराया वसूलता है, तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here