बंगाल में बीजेपी ने बढ़ाई ममता की टेंशन! क्या होगा ममता का दाव?

0
6

बंगाल में विधानसभा चुनाव तो खत्म हो गए लेकिन उसका असर अभी भी बरकरार है। टीएमसी और बीजेपी में तनातनी कायम है। बीजेपी और टीएमसी दोनों ही पार्टियां एक दूसरे को घेरने से बाज नहीं आती हैं। पीएम नरेंद्र मोदी की कैबिनेट के विस्तार में बंगाल से शामिल किए गए 4 मंत्रियों में भी इसकी झलक दिखती है। आपको बता दें कि इन 4 मंत्रियों में से 3 पिछड़े समुदाय के हैं, जो पश्चिम बंगाल में अच्छी खासी पकड़ रखते हैं। शांतनु ठाकुर मतुआ दलित समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं। इसके अलावा कूचबिहार के सांसद निसिथ प्रामाणिक राजबंशी समुदाय से ताल्लुक रखते हैं।

नए बने मंत्री जॉन बार्ला तो आदिवासी समुदाय से आते हैं और उत्तर बंगाल में पकड़ रखते हैं। ममता को भले ही जीत मिली हो लेकिन इस बात में कोई शक नहीं है कि 2019 के लोकसभा चुनाव से लेकर इस साल हुए विधानसभा चुनाव तक में बीजेपी को अच्छी सफलता मिली है। मोदी कैबिनेट में बंगाल से इन मंत्रियों को जगह देकर भाजपा ने एक बार फिर से ममता बनर्जी की टेंशन बढ़ा दी है। खबरों की मानें तो लोगों का मानना है कि इन्हें मंत्री बनाकर भाजपा ने बंगाल में जातीय समीकरण को साधा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here