अलीगढ़ में बोले पीएम मोदी, पहले यूपी में चलता था माफिया और गुंडाराज, योगी जी ने सबको पहुंचा जेल

0
11

यूपी विधानसभा चुनाव से ठीक पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अलीगढ़ में दिया गया भाषण चुनावी शंखनाद के तौर पर देखा जा रहा है. दरअसल, पीएम मोदी ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में महाराजा महेंद्र प्रताप सिंह यूनिवर्सिटी का शिलान्यास किया. इसके बाद पीएम मोदी ने अपने भाषण में योगी सरकार की जमकर तारीफ की, उन्होंने कहा कि पहले यूपी में गुंडों और माफियाओं की मनमानी चलती थी, जो अब योगी सरकार में सलाखों के पीछे हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि बेहतर माहौल के कारण यूपी अब दुनिया के हर छोटे-बड़े निवेशक के लिए पसंदीदा जगह बनता जा रहा है.

पीएम मोदी ने कहा कि ये तब होता है जब किसी भी प्रदेश में निवेश के लिए जरुरी माहौल बनता है, जरुरी सुविधाएं मिलती हैं. मगर, आज यूपी डबल इंजन सरकार के डबल लाभ का एक बहुत बड़ा उदाहरण बन रहा है. पीएम मोदी ने कहा, ‘एक दौर था जब यहां शासन-प्रशासन, गुंडों और माफियाओं की मनमानी से चलता था, लेकिन अब वसूली करने वाले, माफियाराज चलाने वाले सलाखों के पीछे हैं. यूपी सरकार ने वन डिस्ट्रिक, वन प्रोडक्ट के माध्यम से अलीगढ़ के तालों और हार्डवेयर को एक नई पहचान दिलाने का काम किया है.’

वहीं पीएम मोदी ने पुरानी सरकारों के कामों का जिक्र करते हुए कहा, 2017 से पहले यूपी में गरीबों की हर योजना में रोड़े अटकाए जाते थे, एक-एक योजना लागू करने के लिए दर्जनों बार केंद्र की तरफ से चिठ्ठी लिखी जाती थी, लेकिन यहां उस गति से काम नहीं होता था. ये 2017 से पहले की बात है. जैसे होना चाहिए था, वैसा नहीं होता था, उन्होंने कहा, ‘यहां पहले जमकर घोटाले होते थे, राज-काज को भ्रष्टाचारियों के हवाले कर दिया गया था. उस समय को यूपी के लोग भूल नहीं सकते. मुझे आज ये देखकर बहुत खुशी होती है कि जिस यूपी को देश के विकास में एक रुकावट के रूप में देखा जाता था, वही यूपी आज देश के बड़े अभियानों का नेतृत्व कर रहा है.

आज योगी जी की सरकार पूरी ईमानदारी से यूपी के विकास में जुटी हुई है. समाज में विकास के अवसरों से जिन्हें दूर रखा गया, ऐसे हर समाज को शिक्षा और सरकारी नौकरियों में अवसर दिए जा रहे हैं. आज उत्तर प्रदेश की चर्चा बड़े इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट और बड़े फैसलों के लिए होती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here