असम में आतंक की चौथी पाठशाला ध्वस्त!, स्थानीय लोगों ने ‘जिहादियों’ का गढ़ बने रहे ‘मदरसे’ को ढहाया

0
47

असम में ग्वालपारा जिले में मदरसे की आड़ में चल रहे आतंकी पाठशाला के खिलाफ स्थानीय लोगों का गुस्सा फूटा है. यहां पर स्थानीय लोगों ने एक मदरसे और उससे सटे एक रेसीडेंसियल कैंपस को जिहादी गतिविधियों के लिए इस्तेमाल किए जाने के विरोध में ध्वस्त कर दिया है. खबरों की माने, तो ग्वालपारा जिले के मटिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत पखिउरा चार में स्थित मदरसे और उससे सटे रेसीडेंसियल कैंपस का कथित तौर पर जिहागी गतिविधियों लिप्त होने की खबर थी. इसे दो बांग्लादेशी नागरिकों द्वारा संचालित किया जा रहा था. इसकी भनक स्थानीय लोगों को लग गई. लिहाजा, उन्होंने यहां पर मदरसे और उससे सटे रेसीडेसियल कैंपस को ध्वस्त कर दिया. खबर है कि दोनों आरोपी अभी फरार है.

बता दें, हाल ही में मौलवी जलालुद्दीन शेख की गिरफ्तारी के बाद राष्ट्र विरोधी गतिविधि के लिए इस्तेमाल हो रहे मदरसा कैंपस का खुलासा हुआ था. एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि शेख ने कथित तौर पर फरार जिहादियों को दरोगर अलगा पखिउरा चार मदरसा के शिक्षकों के रूप में नियुक्त किया था. शेख को हाल ही में उनके साथ कथित संबंधों के लिए गिरफ्तार किया गया था. पूर्वोत्तर राज्य में ध्वस्त होने वाला यह चौथा मदरसा है.

इधर, ग्वालपारा पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्थानीय लोगों ने जिहादी गतिविधियों के प्रति तीखी नाराजगी जताते हुए खुद ही मदरसा और उससे सटे रेसीडेंसियल कैंपस को गिरा दिया. पुलिस के अनुसार, फरार अमीनुल इस्लाम उर्फ उस्मान उर्फ मेहदी हसन और जहांगीर अलोम आतंकी संगठन अल-कायदा भारतीय उपमहाद्वीप (AQIS) और अंसारुल्लाह बांग्ला टीम (ABT) का सक्रिय सदस्य हैं. अधिकारी ने कहा कि दोनों ने 2020-22 के बीच अलग-अलग समय पर मदरसे में पढ़ाया था. इस साल अगस्त से मोरीगांव, बारपेटा और बोंगाईगांव जिलों में तीन अन्य मदरसों को ऐसी ही मामलों में ध्वस्त किया गया था.

बता दें, मस्जिदों और मदरसों से कथित तौर पर संचालित जिहादी आतंकवादी गतिविधियों पर असम सरकार शिकंजा कसती जा रही है. अगस्त में असम सरकार ने तीन मदरसों पर बुलडोजर चलवा दिया था. असम प्रशासन और पुलिस ने बांग्लादेश स्थित आतंकी संगठन अल-कायदा भारतीय उपमहाद्वीप (AQIS) और अंसारुल्लाह बांग्ला टीम (ABT) से जुड़े मौलवियों द्वारा संचालित और प्रबंधित कई मदरसों को ध्वस्त किया है. इन मदरसे के शिक्षकों पर आतंकी कनेक्शन का आरोप है. पुलिस ने करीब 37 लोगों को अरेस्ट किया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here