दिल्लीः एयरलाइंस में नौकरी के नाम पर ठगी करने वाले गैंग का पर्दाफाश, एक पर्वतारोही और 10 महिलाएं गिरफ्तार

0
42

दिल्ली पुलिस ने ‘टाटा एयर इंडिया’ में नौकरी दिलाने के नाम पर लोगों के साथ ठगी करने वाले एक फर्जी कॉल सेंटर का पर्दाफाश किया है. इस दौरान पुलिस ने एक 26 वर्षीय पर्वतारोही और 10 महिलाओं को गिरफ्तार किया है. पुलिस की गिरफ्त में आए आरोपियों ने पिछले 45 दिनों से उड़ीसा, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और दिल्ली के विभिन्न राज्यों के 50 से अधिक लोगों को ठगा है. इनके निशाने पर खास तौर पर उड़ीसा, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के लोग हुआ करते थे, ताकि इन लोगों से फेस-टू-फेस संपर्क ना हो सके.

दरअसल, राजधानी दिल्ली में बीते 1 सितंबर (गुरुवार) को दिल्ली पुलिस को कन्हैया नगर, दिल्ली इलाके में एक अवैध कॉल सेंटर के संबंध में गुप्त सूचना मिली थी. सूचना मिलने के बाद थाना प्रभारी केशवपुरम ने एक टीम का गठन किया. जिसके बाद कन्हैया नगर में स्थित एक परिसर के टॉप फ्लोर पर छापा मारा है. जहां पर अवैध रुप से कॉल सेंटर चल रहा था. हालांकि, रेड के समय कॉल सेंटर का मालिक अनिल कुमार अपनी 10 महिला टेलीकॉलर के साथ परिसर में मौजूद था.

वहीं, दिल्ली पुलिस की पूछताछ में पता चला कि अनिल कुमार पिछले 45 दिनों से परिसर में इस अवैध कॉल सेंटर को चला रहा है. जहां पर वो भोले-भाले बेरोजगार युवकों को टेलीफोन पर महिला टेलीकॉलर की मदद से ‘टाटा एयर इंडिया’ में नौकरी दिलाने का झांसा देता है. हालांकि, कॉल करने वाले और उन्हें व्हाट्सएप के माध्यम से ‘टाटा एयर इंडिया’ के जाली नियुक्ति पत्र भी भेजते थे. इस दौरान मुख्य मास्टरमाइंड अनिल से लगातार पूछताछ के दौरान, उसने कबूल किया कि वो पिछले 45 दिनों से फर्जी कॉल सेंटर चला रहा है. जहां 50 से ज्यादा लोगों को धोखा दे चुका है और उसने कॉल करने, टेलीफोनिक इंटरव्यू आयोजित करने और भोले- भाले बेरोजगार लोगों से पैसे मांगने के लिए महिला टेलीकॉलर्स को काम पर रखा था. इसके लिए अनिल कुमार उनसे रजिस्ट्रेशन फीस, ड्रेस फीस आदि के बदले 1,500 से 8,000 रुपए की मांग करता था.

इसके साथ ही आरोपी अनिल कुमार ने बताया कि उसने विभिन्न पदों पर ‘टाटा एयर इंडिया’ में रोजगार दिलाने का झांसा देकर निर्दोषों को ठगा है. जहां पर उन्होंने पिछले 45 दिनों से उड़ीसा, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के लोगों को धोखा देना शुरू कर दिया. साथ ही ‘टाटा एयर इंडिया’ की नौकरी की पेशकश के बदले 50 से अधिक लोगों को धोखा दिया, उन्होंने ‘वर्क इंडिया पोर्टल’ से मुख्य रूप से उड़ीसा, मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र के लोगों का डेटा एकत्र किया है. ताकि उनसे फिजीकली संपर्क ना किया जा सके. फिलहाल, पुलिस ने इनके पास से 18 मोबाइल फोन, डेबिट कार्ड, ‘टाटा एयर इंडिया’ के फर्जी दस्तावेज और अन्य दस्तावेज बरामद किए हैं.

बता दें, पुलिस की गिरफ्त में आया अनिल कुमार एक अंतरराष्ट्रीय पर्वतारोही है और वह अफ्रीका में माउंट किलमिन्जारो पर चढ़ाई कर चुका है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here