दिल्लीः जांच एजेंसियों का ‘आप’ और भाजपा कर रही दुरुपयोग! कांग्रेस का आरोप, मनीष सिसोदिया को बचाने की चल रही कोशिश

0
44

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के वरिष्ठ प्रवक्ता एवं पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री ने कहा कि नई आबकारी नीति में हुए भ्रष्टाचार के दोषी मनीष सिसोदिया को बचाने के लिए भाजपा और आम आदमी पार्टी एजेंसियां का दुरुपयोग करके ध्यान भटकाने का काम कर रही हैं, क्योंकि शराब घोटाले को प्रदेश अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने सबूतों के साथ दिल्ली पुलिस आयुक्त के समक्ष पेश किया था. भाजपा द्वारा सोम ग्रुप से 2 करोड़ रुपए चंदे के रुप में लिए है जिससे साफ हो जाता है कि शराब घोटाले में भाजपा बराबर की भागीदार है.

आदर्श शास्त्री ने कहा कि दिल्ली कांग्रेस द्वारा दिल्ली सरकार द्वारा 1,000 बसों की खरीद और मेनटेनैंस के लगभग 4,200 करोड़ के घोटाले को उजागर करके CBI और गृहमंत्रालय को जांच की मांग के साथ शिकायत दर्ज कराई थी. जिसके गृहमंत्रालय CBI को जांच के आदेश दे दिए थे, उन्होंने पूछा कि DTC घोटाले के एक वर्ष बाद तक भी CBI ने पी.ई. की जांच क्यों नहीं की और FIR दर्ज क्यों नहीं की गई, उन्होंने कहा कि जब एक जांच चल रही है तो दोबारा मामले को कमजोर करने के लिए मुख्य सचिव की रिपोर्ट पर CBI जांच की अनुशंसा क्यों हुई. कहीं पहले चल रही जांच को बंद कर कमजोर केस दर्ज करने की साजिश तो नही, सीबीआई को सबूत क्यों नही भेजे जा रहे?

आदर्श शास्त्री ने कहा कि 1,000 लो फ्लोर बसों की खरीद में हुए भ्रष्टाचार पर भाजपा ने केजरीवाल सरकार को क्लीन चिट दिलाने का काम किया है. 12 मार्च, 2021 को विपक्ष के नेता द्वारा DTC घोटाले में शिकायत के बाद 11 जुलाई को तत्कालीन उपराज्यपाल ने जांच के तीन सदस्यीय समिति बनाई. जांच समिति का मुख्य ट्रांसपोर्ट सचिव आशीष कुन्द्रा को बनाकर आरोपी को ही अपनी जांच करने की जिम्मेदारी दे दी गई. जिसका परिणाम सिर्फ पांच बिंदुओं पर जांच का दायरा सीमित करके मामले को क्लीन चिट दे दी गई. उन्होंने कहा कि जांच अधूरी की गई क्योंकि बस खरीद के साथ 3 साल मैंटेन्ंस कम्पनी ने देना था तब सरकार ने 3412.78 करोड़ रुपए ए.एम.सी. का कान्ट्रेक्ट क्यों दिया?

आदर्श शास्त्री ने कहा कि बस खरीद के लिए जब एल-1 टाटा मोटर्स का टेंडर दिया था तब उसकी जगह जे.बी.एम. को एल-2 का टेंडर नेगोशेशन और टर्म कंडीशन पर क्यों दिया गया? उन्होंने आम आदमी पार्टी प्रवक्ताओं पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे कह रहे है कि टेंडर हुआ ही नही तो घोटाला कैसा. उन्होंने कहा कि आप प्रवक्ता वही बात कर रहे हैं कि ताला टूटा मौहल्ले को पता चला, पुलिस को खबर जाने के बाद अगर चोर भाग गए तो चोरी हुई ही नही. उन्होंने कहा कि DTC घोटाला सबके सामने है, आम आदमी पार्टी और भाजपा उपराज्यपाल के जरिए दिल्ली के खजाने को लूटने रहे है.

शास्त्री ने कहा कि भाजपा और आम आदमी पार्टी आबकारी नीति लागू करने में हुए घोटाले और DTC के भ्रष्टाचार के कांग्रेस के आरोपों से ध्यान भटकाने के लिए एक दूसरे के साथ खो-खो खेल रही है. केजरीवाल शराब घोटाला उजागर होने के बाद मनीष सिसोदिया को गिरफ्तारी से बचाने के लिए शराब नीति वापस लेकर पुरानी नीति लागू कर देते है और बस घोटाले में बस खरीद रोक दी गई ताकि CBI, FIR दर्ज ना करें. उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी मांग करती है कि जब भ्रष्टाचार हुआ है तो जांच पूरी होनी चाहिए और आबकारी नीति और DTC घोटाले के दोषियों को सजा भी मिलनी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here