लाल किले की हिंसा के आरोपी दीप सिद्धू ने वीडियो जारी कर कहा- सबूत जुटाकर दो दिन बाद हो जाऊंगा पेश, खोल दी नेताओं की पोल

0
106

कृषि कानूनों के विरोध में 26 जनवरी को ट्रैक्टर रैली के दौरान लाल किले पर जमकर उत्पाद हुआ था. इस हिंसा के आरोपी दीप सिद्धू ने वीडियो जारी कर एक बार फिर सफाई दी. सिद्धू ने कहा, उन्होंने कुछ गलत नहीं किया है, इसलिए उन्हें कोई डर नहीं है. उन्होंने कहा, वे सबूत जुटा रहे हैं और 2 दिन बाद पुलिस के सामने पेश होंगे.

सिद्धू ने कहा, जांच एजेंसियां उनके परिवार को परेशान ना करें. दिल्ली पुलिस ने 26 जनवरी को हुए उत्पाद को लेकर 38 एफआईआर दर्ज की हैं. अब तक इन मामलों में 84 गिरफ्तारियां भी हो चुकी हैं. वहीं, दिल्ली पुलिस ने सिद्धू के खिलाफ अरेस्ट वॉरंट और लुकआउट नोटिस जारी किया है.

दो महीने से किसान नेता लोगों को भड़का रहे थे

सिद्धू ने वीडियो जारी कर किसान नेताओं पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा, किसान नेता पिछले 2 महीने से मंच से लोगों को भड़का रहे थे. सिंघु बॉर्डर पर उकसाने के लिए लगातार गाने बजाए जा रहे थे.

सिद्धू ने कहा, किसान नेताओं ने पंजाब से लोगों को दिल्ली में परेड में शामिल होने के लिए बुलाया था. इतना ही नहीं 25 जनवरी को जब दिल्ली पुलिस के दिए रूट पर मार्च निकालने की बात हुई थी, तब किसान मोर्चा के मंच पर बवाल हुआ था.

लाल किले में मुझसे पहले घुस चुके थे लोग

दीप सिद्धू ने कहा, वे 25 जनवरी की रात सिंघु बॉर्डर पर रुके थे. लेकिन 26 जनवरी की सुबह वे जहां ठहरे थे, वहां चले गए थे. वे 11 बजे सिंघु बॉर्डर पर पहुंचे. तब तक परेड शुरू हो चुकी थी. उन्होंने दावा किया कि वे लाल किला पहुंचे तब हजारों की संख्या में लोग लाल किले के अंदर दाखिल हो चुके थे. उन्होंने कहा, हिंसा फैलाने के आरोप गलत हैं.

बाइक से हरियाणा की तरफ गया

सिद्धू ने कहा, लाल किले की घटना के बाद वे सिंघु बॉर्डर की तरफ जा रहे थे. तभी दिल्ली के लड़कों ने उन्हें कार से सिंघु बॉर्डर के पास छोड़ा. यहां से वे दूसरी कार से बैठकर ढाबे पर पहुंचे. वहां उन्होंने ट्रैक्टर पर बैठकर वीडियो बनाया. कुछ लोगों ने उन्हें वहां से जाने के लिए कहा. इसके बाद वे बाइक से हरियाणा की तरफ चले गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here