जोशीमठ में ग्लेशियर गिरने से बांध टूटा, अब तक 50 से ज्यादा लोगों के लापता होने की खबर, हरिद्वार तक अलर्ट

0
155

उत्तराखंड के जोशीमठ में ग्लेशियर गिरने से डैम टूट गया है. इसमें कई लोगों के बहे जाने की खबर आ रही है. DIG SDRF रिदिम अग्रवाल ने कहा है कि ऋषिगंगा प्रोजेक्ट से जुड़े उनके 50-75 मजदूर लापता हैं. बताया जा रहा है कि तपोवन के ऊपर से किसी नदी के फटने की वजह से ऐसा हुआ है. जिस नदी के फटने की बात कही जा रही है, उसे धौली गंगा भी कहा जाता है. जिस वक्त यह बर्फीला तूफान आया उस वक्त जोशीमठ में अच्छी खासी धूप खिली हुई थी, जिससे भी लोग हैरान हैं.

इस भयंकर हादसे पर राज्य के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत का भी बयान आ गया है. उन्होंने कहा, टचमोली जिले से एक आपदा का समाचार मिला है. जिला प्रशासन, पुलिस विभाग और आपदा प्रबंधन को इस आपदा से निपटने की आदेश दे दिए हैं. किसी भी प्रकार की अफवाहों पर ध्यान ना दें. सरकार सभी जरूरी कदम उठा रही है.’

पोस्ट जोशीमठ से हेड कांस्टेबल मंगल सिंह द्वारा बताया गया कि उन्हें 10 बजकर 55 मिनट पर थाना जोशीमठ से रैणी गांव में ग्लेशियर टूटने की सूचना मिली थी. इसके बाद हरिद्वार तक अलर्ट जारी कर दिया गया है. चमोली जिले के पुलिस अधीक्षक यशवंत सिंह चौहान ने बताया कि काफी नुकसान की सूचना आ रही है. लेकिन अभी स्थिति स्पष्ट नहीं है. आपदा राहत टीम मौके पर जा रही है, उसके बाद ही नुकसान की स्थिति स्पष्ट हो पाएगी.

उत्तराखंड पुलिस की तरफ से बताया गया है कि तपोवन रैणी क्षेत्र में ग्लेशियर टूटने से ऋषिगंगा पावर प्रोजेक्ट को काफी क्षति पहुंची है. पुलिस ने कहा है कि नदी का जल स्तर लगातार बढ़ता जा रहा है, ज़िस कारण अलकनंदा नदी किनारे रह रहे लोगों से अपील है जल्दी से जल्दी सुरक्षा की दृष्टि से सुरक्षित स्थानों पर चले जाएं. चमोली पुलिस ने उनसे संपर्क करने के लिए नंबर भी जारी किया है –

वर्चुअल पुलिस स्टेशन जनपद चमोली


Whatsapp 9458322120

FaceBook chamoli police,

Twitter @chamolipolice @SP_chamoli,

Instagram chamoli_police

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here