हवा में भी फैल रहा कोरोना, मिले पुख्ता सबूत

0
25

कोरोना वायरस लगातार पूरी दुनिया में बढ़ रहा है। लगातार वायरस के फैलने के लेकर तरह-तरह के दावे किए जा रहे हैं। दो गज की दूरी की हिदायत तो कोरोना की शुरुआती लहर से ही दी जा रही है। हाल ही में वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच दुनिया के प्रमुख हेल्थ रिसर्च जर्नल लैंसेट ने बड़ा दावा किया है। जर्नल लैंसेट ने अपने एक रिव्यू में दावा किया है कि कोरोना वायरस हवा के जरिए तेजी से फैलता है। रिव्यू के साथ ही अलग-अलग स्टडी क रिव्यू कर कई कारण सामने रखे हैं। लैंसेट के रिव्यू की मुख्य लेखक ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की त्रिश ग्रीनहाल का कहना है कि नए खुलासे के बाद WHO समेत दूसरी हेल्थ एजेंसियों को वायरस के ट्रांसमिशन होने की परिभाषा को बदलने की जरूरत है यानी हेल्थ एजेंसियों द्वारा फिजिकल डिस्टेंसिंग, मास्क समेत जो नियम बनाए गए हैं वो इस वायरस को रोकने में काफी नहीं हैं।

नए रिव्यू में कई दावे हैं जिसमें पहला दावा है सुपर स्प्रेडर इवेंट में मिले केस। नया रिव्यू कहता है कि कागिट कॉयर इवेंट एक सुपर-स्प्रेडर इवेंट साबित हुआ। इस इवेंट में एक संक्रमित व्यक्ति शामिल हुआ और उसने 53 अन्य लोगों को संक्रमित कर दिया। स्टडी में पता चला कि कई लोग तो आपस में संपर्क में भी नहीं आए थे और न ही उनकी मुलाकात हुई थी। तो साफ है कि हवा से वायरस फैला, तभी ये लोग इन्फेक्ट हुए।

दूसरे रिव्यू के अनुसार इनडोर में ट्रांसमिशन ज्यादा होता है यानि खुली जगहों के बजाय बंद जगहों में संक्रमण ज्यादा तेजी से फैलता है। तीसरे रिव्यू में लैंसेट कहते हैं कि साइलेंट ट्रांसमिशन से वायरस फैलाने में मददगार साबित हुआ है। 40% वायरस ट्रांसमिशन ऐसे लोगों से हुआ, जिनमें कोई लक्षण नहीं था। पूरी दुनिया में इन बिना लक्षण वाले लोगों ने वायरस को फैलाया।

एक दावा है कि बड़े ड्रॉपलेट्स से फैलाव के सबूत कम मिले हैं। क्योंकि बड़े ड्रॉपलेट्स हवा में नहीं ठहरते वो गिरकर सतह को संक्रमित करते हैं। किसी भी स्टडी में यह साबित करने वाला तथ्य नहीं मिला है। बता दें कि नए दावों के बाद एक्सपर्टस का कहना है कि हाथ धोना और सतह को साफ करना तो जरूरी है ही लेकिन इसी के साथ जरूरत है कि हवा के जरिए वायरस ट्रांसमिशन के लिए तुरंत जरूरी कदम उठाए जाने की। इसके तहत वायरस को सांस की नली में जाने से रोकने और इसे हवा में ही खत्म करने पर फोकस करना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here