मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गोरखपुर में करेंगे सैनिक स्कूल का शिलान्यास

0
6

पूर्वांचल के नौजवान बड़ी संख्या में सेना और अर्धसैनिक बलों में भर्ती होकर पूरी शिद्दत और बहादुरी से देश की सुरक्षा में लगे हैं।उन्हें बेहतर तालीम मिले तो इनमें से कई अफसर बनकर अपने बल की बागडोर भी बखूबी थाम सकते हैं। ऐसी ही सैन्य तालीम दिलाने का अवसर प्रदान करने जा रहे हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। वह गोरखपुर सैनिक स्कूल के जरिये समूचे पूर्वांचल के युवाओं को एक बड़ी सौगात देने जा रहे हैं। गोरखपुर खाद कारखाना परिसर में वह शुक्रवार को अपराह्न तीन बजे इसका शिलान्यास करेंगे। शिलान्यास कार्यक्रम में डिप्टी सीएम डॉ दिनेश शर्मा भी उपस्थित रहेंगे।

पूर्वांचल के लोगों के लिए अपने क्षेत्र में सैनिक स्कूल सपने सरीखा था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस सपने में हकीकत का रंग भर दिया है। अब पूर्वांचल के युवा भी फौज में अफसर बन सकेंगे। इसमें उनका मददगार होगा गोरखपुर खाद कारखाना परिसर में बनने वाला सैनिक स्कूल। यह प्रदेश का पांचवां सैनिक स्कूल होगा। 'युवाओं को शिक्षा, देश की रक्षा' के ध्येय से शुरू हो रहे इस शैक्षिक प्रकल्प में कक्षा 6 से 12 तक बालक बालिकाओं को आवासीय व्यवस्था के तहत शिक्षा प्रदान की जाएगी। छात्र छात्राओं के लिए अलग अलग कैम्पस होगा। गोरखपुर के सैनिक स्कूल का प्रशासनिक भवन प्राचीन भारतीय संस्कृति व परम्पर का दर्शन कराने वाला होगा।

राष्ट्रभक्ति का जज्बा करने वाला होगा परिसर का माहौल

मुख्यमंत्री की मंशा है कि सैनिक स्कूल के परिसर का माहौल ऐसा हो जो विद्यार्थियों में जो राष्ट्रभक्ति का जज्बा भरता रहे। सीएम के निर्देशों के अनुरूप यहां बनने वाले हॉस्टल राष्ट्र नायकों के नाम से समर्पित होंगे। साथ ही कैम्पस के अलग अलग स्थानों का नामकरण सेना के जाबांजो के नाम पर किया जाएगा। कैम्पस में बागवानी, जैविक खेती व गोशाला की भी व्यवस्था होगी।


सोलर सिस्टम के साथ रेन वाटर हार्वेस्टिंग भी

सैनिक स्कूल के निर्माण में पर्यावरण संरक्षण का भी पूरा ध्यान रखा जाएगा। यहां सभी भवनों में सोलर सिस्टम और रेन वाटर हार्वेस्टिंग की व्यवस्था की जाएगी। क्लास रूम, हॉस्टल के अलावा बहुउद्देश्यीय सभागार, प्रेक्षागृह भी बनाया जाएगा। सुरक्षा और अनुशासन पर नजर रखने के लिए समूचा कैम्पस सीसीटीवी कैमरों से कवर रहेगा। मार्च पास्ट, झंडारोहण के लिए ट्रैक बनाए जाएंगे।

खेल प्रतिभाएं भी तराशी जाएंगी

सैनिक स्कूल के कैम्पस में खेल प्रतिभाएं भी तराशी जाएंगी। यहां के विद्यार्थियों को फुटबाल, वॉलीबाल, बास्केटबाल, घुड़सवारी, शूटिंग, जिम्नास्टिक, तैराकी, टेनिस, दौड़ आदि खेलों के लिए प्रशिक्षण मिलेगा और इसके निमित्त ट्रैक व कोर्ट भी होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here