बड़ी खबर: यासीन मलिक ने ही किया था अपहरण, रूबिया सईद ने पहचाना, RSS से दलित-OBC को अलग करना चाहते थे आतंकी

0
30


यासीन मलिक ने किया था रूबिया सईद का अपहरण, कोर्ट में दी गवाही

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती की बहन रूबिया सईद ने अपने किडनैपर्स की पहचान की है. इनमें अलगाववादी नेता यासीन मलिक समेत 4 लोग अपहरणकर्ता शामिल हैं. इस मामले में रूबिया पहली बार अदालत में पेश हुई थीं. फिलहाल रूबिया तमिलनाडु में रहती हैं और पेशे से एक ड्रॉक्टर है. 8 दिसंबर 1989 को उनका अपहरण तब हुआ जब वो जम्मू कश्मीर में मेडिकल को पढ़ाई कर रही थी. उनकी रिहाई के बदले सरकार को 13 दिसंबर 1989 को 5 आतंकवादी छोड़ना पड़ा. उस समय मुफ्ती मोहम्मद सईद भारत के गृहमंत्री थे. CBI ने 1990 की शुरुआत में इस केस की जांच अपने हाथ में ले ली थी. यह पहली बार है, जब रूबिया को इस मामले में पेश होने के लिए कहा गया था. बता दें, यासीन मलिक अभी जेल में है, उसे टेरर फंडिंग मामले में उम्रकैद मिली है.


भावी CJI ने सुबह 9:30 बजे सुनवाई शुरू की, कहा- बच्चे तो 7 बजे स्कूल जाते हैं

भारत के होने वाले मुख्य न्यायाधीश जस्टिस उदय उमेश ललित ने नई शुरूआत कर दी है, उन्होंने शुक्रवार को सुबह 9.30 बजे से ही कोर्ट में सुनवाई शुरू कर दी. आमतौर पर कोर्ट में सुनवाई 10.30 बजे शुरू होती है. इस पर जस्टिस ललित ने तर्क दिया- अगर बच्चे सुबह 7 बजे स्कूल जा सकते हैं, तो जज और वकील अपना दिन 9 बजे शुरू क्यों नहीं कर सकते? उनका हमेशा से मानना रहा है कि कोर्ट को जल्दी बैठना चाहिए. बता दें, सुप्रीम कोर्ट की बेंच सप्ताह के पांच दिन सुबह 10.30 बजे से शाम 4 बजे तक बैठती हैं. दोपहर 1 से 2 बजे के बीच लंच ब्रेक होता है. शुक्रवार को जस्टिस ललित, जस्टिस एस रवींद्र भट और जस्टिस सुधांशु धूलिया की बेंच सुबह 9.30 बजे बैठी और मामलों की सुनवाई शुरू की.


केरल पहला राज्य जिसके पास खुद का इंटरनेट, 20 लाख गरीब परिवारों को फ्री मिलेगा

केरल देश का पहला और इकलौता ऐसा राज्य बन चुका है, जिसके पास खुद की इंटरनेट सेवाएं हैं. यह जानकारी खुद सीएम पी विजयन ने दी. सीएम के मुताबिक केरल फाइबर ऑप्टिक नेटवर्क (KFON) लिमिटिड को टेलीकॉम डिपार्टमेंट से इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर लाइसेंस मिल गया है, उन्होंने कहा- अब हमारी प्रतिष्ठित KFON परियोजना इंटरनेट को एक फंडामेंटल राइट्स के रूप में देने के अपने ऑपरेशन को शुरू कर सकती है. सीएम विजयन ने इस योजना के तहत पूरे राज्य में इंटरनेट का जाल फैलाने की तरफ भी इशारा किया. इस प्रोजेक्ट से 20 लाख गरीब परिवारों को फ्री इंटरनेट दिया जाएगा. राज्य के 30 हजार से ज्यादा सरकारी ऑफिस और स्कूल भी इससे जोड़े जाएंगे.


आतंकियों के एक्शन प्लान में RSS से दलित-OBC को अलग करने की साजिश

बिहार की राजधानी पटना से पकड़े गए टेरर मॉड्यूल ने भारत को मुस्लिम राष्ट्र बनाने के लिए 7 पेज का एक्शन प्लान बनाया था. इसमें लिखा है कि 10 प्रतिशत मुस्लिम साथ दें तो बहुसंख्यक घुटनों पर आ जाएंगे. इनकी साजिश RSS से दलितों और OBC को अलग करने की भी थी. बुकलेट में लिखा है कि हम 2047 का सपना देख रहे हैं, जहां मुस्लिमों के पास राजनीतिक सत्ता होगी. इसके लिए सामाजिक मजबूती जरूरी है.


टॉप कॉलेज में IIT मद्रास पहले नंबर पर, मेडिकल कॉलेज में एम्स दिल्ली आगे

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने देश के टॉप कॉलेज और यूनिवर्सिटी की लिस्ट जारी की है. नेशनल इंस्टीट्यूशन रैंकिंग फ्रेमवर्क-2022 के मुताबिक, ओवरऑल कैटेगरी के टॉप कॉलेज में IIT मद्रास पहले नंबर पर है. यूनिवर्सिटी कैटेगरी में टॉप-3 में IISc बेंगलुरु, JNU और जामिया शामिल हैं. मेडिकल कॉलेज में एम्स दिल्ली सबसे आगे है. कुल 11 कैटेगरी में टॉप संस्थानों की रैंकिंग की गई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here