बड़ी खबरः जयराम रमेश बोले- सिंधिया 24 कैरेट के गद्दार हैं, उन्हें कांग्रेस में लौटने नहीं देंगे, मोदी को रावण जैसा बताने पर अहमद पटेल की बेटी ने खड़गे को दी सलाह, कहा- सोच-समझकर बोलें

0
47

जयराम रमेश बोले- सिंधिया 24 कैरेट के गद्दार, मंत्री बनना चाहते थे इसलिए भाजपा गए, बाकी सब बहाना

कांग्रेस के मीडिया प्रमुख जयराम रमेश ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा को 24 कैरेट का गद्दार बताया है, उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि जो लोग कांग्रेस छोड़ चुके है, उन्हें पार्टी में वापस नहीं लाया जाना चाहिए. हालांकि, उन्होंने कपिल सिब्बल की तारीफ करते हुए कहा कि उनके जैसे नेताओं की जरूर पार्टी में वापसी हो सकती है. क्योंकि उन्हें पार्टी छोड़ने के बाद कभी भी पार्टी या कांग्रेस लीडरशीप के बारे में कभी कोई गलत बात नहीं कही. जबकि इससे उलट ज्योतिरादित्य सिंधिया और असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्व सरमा ने पार्टी और हमारी लीडरशिप के लिए गलत बातें कहीं. ऐसे नेता 24 कैरेट गद्दार और देशद्रोही हैं. इन्हें कांग्रेस दोबारा कभी स्वीकार नहीं करेगी. इससे एक दिन पहले जयराम रमेश ने कहा था कि सिंधिया कांग्रेस इसलिए छोड़कर गए क्योंकि वो कैबिनेट मंत्री बनना चाहते थे और 27 नंबर बंगले में रहना चाहते थे. बाकी सब बहाने थे. क्योंकि 27 नंबर वही बंगला है जो तीन दशक पहले उनके पिता माधवराव सिंधिया को आवंटित हुआ था, तब ज्योतिरादित्य सिंधिया 13 साल के थे. सिंधिया का बचपन यहीं पर गुजरा. ज्योतिरादित्य को बंगला गुना से लोकसभा चुनाव हारने के बाद छोड़ना पड़ा, लेकिन कैबिनेट मंत्री बनने के बाद उन्हें यह दोबारा मिल गया.

मोदी को रावण जैसा बताने पर कांग्रेस में विरोध, अहमद पटेल की बेटी ने खड़गे को दी सलाह- सोच-समझकर बोलें


कांग्रेस के नवनिर्वाचित अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे द्वारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘रावण’ जैसा बताने वाले बयान पर पार्टी के अंदर ही खड़गे का विरोध शुरू हो गया है. गुजरात की कांग्रेस नेता मुमताज पटेल ने खड़गे को सलाह देते हुए कहा कि नेता अपनी बात कहते समय शब्द सावधानी से चुनें, क्योंकि उनका गलत इस्तेमाल हो सकता है. इस तरह की टिप्पणियों से बचने में ही समझदारी है. बता दें, मुमताज पटेल सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार रहे दिवंगत अहमद पटेल की बेटी है. हालांकि, वह विधानसभा चुनाव नहीं लड़ रही हैं. ऐसा माना जा रहा है कि वह लोकसभा चुनाव लड़ना चाहती हैं. खड़गे के ‘रावण’ जैसे वाले बयान पर मुमताज की टिप्पणी से पहले खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक सभा में जवाब दिया था, उन्होंने इशारों-इशारों में कहा- कांग्रेस पार्टी को तो राम सेतु से भी नफरत है. कांग्रेस में प्रधानमंत्री पद को नीचा दिखाने और गाली देने की कॉम्पिटिशन चल रही है. मुझे गाली देने के लिए रामायण से रावण को ले आए. एक रामभक्त को रावण कहना गलत है, लोग जितना कीचड़ उछालेंगे, कमल उतना ही खिलेगा.

गुजरात विधानसभा और दिल्ली MCD चुनाव के बाद नए मिशन पर जुटी भाजपा, दिल्ली में बनेगी रणनीति

गुजरात विधानसभा चुनाव और दिल्ली नगर निगम (MCD) चुनाव के बाद भाजपा नए लक्ष्य की तैयारी में जुट गई है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने आगामी चुनावों पर चर्चा के लिए 5 और 6 दिसंबर को दिल्ली में सभी राष्ट्रीय और राज्य स्तर के पदाधिकारियों की विशाल बैठक बुलाई है. सूत्रों का कहना है कि इस बैठक में अगले साल यानी 2023 में होने वाले विभिन्न राज्यों में विधानसभा चुनाव, जबकि 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव पर चर्चा होगी. इस बैठक में पार्टी के सभी राष्ट्रीय पदाधिकारियों के अलावा सभी राज्यों के प्रभारी और सह प्रभारी, विभिन्न मोर्चां के प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेशों के संगठन महामंत्री भी हिस्सा लेंगे. वहीं, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 6 दिसंबर को समापन सत्र को वर्चुअली संबोधित भी कर सकते हैं. ऐसा कहा जा रहा है कि भारत की G-20 की अध्यक्षता को एक बड़ी उपलब्धि मानते हुए पार्टी इससे जुड़े कार्यक्रमों की रूपरेखा भी तैयार की जाएगी. जिससे लोगों को प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में बढ़ते वैश्विक प्रभाव से देश के बारे में अवगत कराया जा सके.

पटरी से उछला सब्बल, खिड़की तोड़कर गर्दन में घुसा, 110 किमी. की रफ्तार से दौड़ रही थी ट्रेन, मौके पर पैसेंजर की मौके मौत

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में नीलांचल एक्सप्रेस में एक बेहद चौंकाने वाला हादसा हुआ. यहां पटरी पर पड़ा सब्बल ट्रेन की खिड़की तोड़ते हुए पैसेंजर के गर्दन में जा घुसा. इससे पैसेंजर की मौके पर ही मौत हो गई. वह ट्रेन के जनरल कोच में खिड़की के किनारे बैठे हुए थे. बताया जा रहा है कि हादसे के समय ट्रेन की रफ्तार 110 किमी/घंटा थी. घटना डाबर-सोमना स्टेशन के बीच हुई. हादसे के बाद कम्पार्टमेंट में चीख-पुकार मच गई. लोग इधर-उधर भागने लगे. किसी को कुछ समझ ही नहीं आ रहा था कि आखिरी ये कैसे हुआ. कुछ ही देर में कम्पार्टमेंट का फर्श खून से लाल हो गया. इस बीच अन्य यात्रियों ने चेन पुलिंग करके ट्रेन रोकी. GRP और RPF को बुलाया. शव को ट्रेन से बाहर निकालकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा गया. रेलवे के मुताबिक हादसे में जान गंवाने वाले यात्री का नाम हरिकेश कुमार दुबे है. वह सुल्तानपुर के गोपीनाथपुर गांव के रहने वाले थे. बीते गुरुवार (1 दिसंबर) को घर जाने के लिए दिल्ली से सुल्तानपुर के लिए रवाना हुए थे. ट्रेन अलीगढ़ के सोमना पहुंचने वाली थी, तभी यह घटना हुई. हरिकेश दिल्ली में मोबाइल टॉवर से जुड़ी कंपनी में टेक्नीशियन थे. वह ट्रेन के जनरल कोच में खिड़की के किनारे बैठे हुए थे.

मूसेवाला मर्डर का मास्टरमाइंड हिरासत में, गोल्डी बराड़ को कैलिफोर्निया में डीटेन किया

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के हत्याकांड का मास्टरमाइंड गोल्डी बराड़ को अमेरिका के कैलिफोर्निया में हिरासत में ले लिया गया है. सूत्रों के मुताबिक गोल्डी को 20 नवंबर या इससे पहले डिटेन किया गया. हालांकि अभी तक इसके बारे में कैलिफोर्निया पुलिस ने औपचारिक तौर पर कोई बयान नहीं दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अमेरिकी जांच एजेंसी FBI ने भारतीय एजेंसियों से बात की है. बताया जा रहा है कि गोल्डी को भारत भेजा जा सकता है. गोल्डी बराड़ के खिलाफ पहले ही 2 पुराने मामलों में रेड कॉर्नर नोटिस जारी हो चुका है. वह कुछ दिन पहले ही कनाडा से राजनीतिक शरण के लिए कैलिफोर्निया भागा था. इधर, पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने गोल्डी की गिरफ्तारी की पुष्टि की है, उन्होंने कहा कि गोल्डी को जल्द भारत लाया जाएगा. बता दें, सिद्धू मूसेवाला के कत्ल के बाद गोल्डी भारतीय खुफिया एजेंसियों और मूसेवाला के फैंस के निशाने पर आ गया. उसे डर लगा कि कहीं कोई उसके ठिकाने का पता ना बता दें. इस वजह से वह कुछ समय पहले कनाडा से अमेरिका के कैलिफोर्निया की फ्रेसनो सिटी भाग निकला था. वहां जाकर उसने 2 वकीलों की मदद से राजनीतिक शरण लेने की भी कोशिश की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here