बड़ी खबर: केजरीवाल सरकार की नई शराब नीति से अन्ना हजारे दुखी, रांची से UPA के 32 MLA रायपुर एयरलिफ्ट

0
108


नई शराब नीति से नाराज अन्ना ने CM केजरीवाल को लिखी चिट्ठी, कहा- आपकी शराब नीति से मैं दुखी हूं

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के सियासी गुरू कहे जाने वाले अन्ना हजारे ने उन्हें चिट्ठी लिखी है और दिल्ली की नई शराब नीति के खिलाफ अपनी नाराजगी जताई है. अन्ना हजारे ने अरविंद केजरीवाल को संबोधित चिट्ठी में लिखा, 'कई दिनों से दिल्ली सरकार की शराब नीति को लेकर जो खबरें आ रही हैं, उनसे मैं दुखी हूं. हमें महाराष्ट्र की तरह शराब नीति की उम्मीद थी, लेकिन आपने ऐसा नहीं किया. अन्ना ने आगे लिखा कि लोग सत्ता के लिए पैसे और पैसे के लिए सत्ता के घेरे में फंस गए हैं. यह उस पार्टी के अनुरूप नहीं है जो एक बड़े आंदोलन से उभरी है. आपने अपनी पुस्तक स्वराज में बड़ी-बड़ी बातें लिखी थीं, लेकिन आपके आचरण पर उसका असर नहीं दिख रहा है. आपके मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार मैं आपको पत्र लिख रहा हूं.


रांची से UPA के 32 MLA रायपुर एयरलिफ्ट, रिजॉर्ट दो दिनों के लिए बुक

झारखंड में सियासी संकट के बीच UPA के विधायकों को रायपुर एयरलिफ्ट किया गया है. कांग्रेस-JMM और RJD के 32 विधायकों को रांची से इंडिगो के विशेष विमान से रायपुर लाया गया है. विधायकों को 3 बसों में बैठाकर नवा रायपुर के मेफेयर रिसॉर्ट ले जाया गया. रिसॉर्ट के बाहर चप्पे-चप्पे पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है. इस रिसॉर्ट को 2 दिनों के लिए बुक किया गया है. इधर सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने 1 सितंबर को कैबिनेट की बैठक बुलाई है. इसमें जनता के हित से जुड़े कई अहम फैसले लेने संबंधी बातें कही जा रही हैं. सोमवार को मुख्यमंत्री सोरेन के भाई बसंत सोरेन की विधायकी पर भी चुनाव आयोग में चर्चा हुई, लेकिन इस पर कोई निर्णय नहीं हो सका.


रिटायर्ड IAS की पत्नी ने की दिव्यांग से दरिंदगी, गर्म तवे से जलाती थी

झारखंड की राजधानी रांची में 29 साल की एक आदिवासी दिव्यांग से दरिंदगी का मामला सामने आया है, उसे 8 साल से एक रिटायर्ड IAS ऑफिसर महेश्वर पात्रा की पत्नी और भाजपा नेत्री सीमा पात्रा ने घर में कैद करके रखा था. पीड़ित का नाम सुनीता है. उसने बताया कि उसे भरपेट खाना नहीं दिया जाता था. रॉड से पीटा जाता था और गर्म तवे से जलाया जाता था. फिलहाल उसे कैद से छुड़ाकर रांची रिम्स में भर्ती कराया गया है. यह खबर सामने आने पर सीमा को पार्टी से निकाल दिया गया है. वहीं, राज्यपाल रमेश बैस ने सीमा पात्रा मामले पर संज्ञान लेते हुए अपनी नाराजगी जताई है. पुलिस की शिथिलता पर भी अपनी गंभीर चिंता जताते हुए राज्य के पुलिस महानिदेशक से पूछा है कि अब तक पुलिस ने दोषी के खिलाफ कोई कार्रवाई क्यों नहीं की है.


गुजरात दंगों के 9 में से 8 केस बंद, सीतलवाड़ को राहत के लिए अपील की इजाजत

सुप्रीम कोर्ट ने 2002 के गुजरात दंगों से जुड़े 9 में से 8 केस बंद करने का आदेश दिया है. इन सभी मामलों से जुड़ी कई याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में लंबित थीं. CJI जस्टिस यूयू ललित की अगुआई वाली तीन जजों की बेंच ने मंगलवार को कहा कि इतना समय गुजरने के बाद इन मामलों पर सुनवाई करने का कोई मतलब नहीं है. वहीं, एक अन्य मामले में कोर्ट ने एक्टिविस्ट तीस्ता सीतलवाड़ को राहत के लिए अपील करने की इजाजत दे दी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि गुजरात दंगों से जुड़े 9 में से 8 केस में निचली अदालतें फैसला सुना चुकी हैं. इनमें राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग यानी NHRC की याचिका भी शामिल है, जिसमें दंगों के दौरान हुई हिंसा की जांच की मांग की गई थी. कोर्ट ने दंगा पीड़ितों और सिटीजंस फॉर जस्टिस नाम के NGO की रिट याचिका पर भी विचार किया. NGO ने 2003-2004 में दाखिल याचिका में दंगों की जांच गुजरात पुलिस से लेकर CBI को सौंपने की मांग की थी.


त्रिपुरा में जेपी नड्डा की रैली में शामिल होने जा रहे भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमला, 40 घायल

पश्चिम त्रिपुरा जिले के खुमुलवंग में सोमवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की रैली में शामिल होने जा रहे पार्टी के कार्यकर्ताओं पर उपद्रवियों ने हमला कर दिया. इस हमले में कम से कम 40 कार्यकर्ताओं के घायल होने की खबर मिली है. त्रिपुरा में इस साल ग्राम समिति (ग्राम पंचायत) और अगले साल विधानसभा चुनाव होने हैं. इन चुनावों से पहले अभियान के लिए नड्डा की रैली आयोजित की गई थी. इसी रैली में ये कार्यकर्ता भाग लेने वाले थे. इस हमले के बारे में त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा ने मंगलवार को जानकारी दी है. मुख्यमंत्री माणिक साह ने कहा कि पार्टी के घायल कार्यकर्ताओं में से 25 को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और एक की हालत गंभीर है. भाजपा अध्यक्ष के दौरे के वक्त हुई इस घटना की निंदा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, 'ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी.' मुख्यमंत्री ने पुलिस को हमलों में शामिल सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करने के भी निर्देश दिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here