आसाराम को नहीं मिलेगी जमानत, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

0
14
Asharam

बलात्कार मामले में आजीवन कारावास की सजा भुगत रहे आसाराम को सुप्रीम कोर्ट से तगड़ा झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट मे आसाराम को अंतरिम जमानत देने से इंकार कर दिया है. हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने आसाराम को इलाज के लिए ऋषिकेश में आयुर्वेदिक संस्थान भेजने की याचिका पर सुनवाई की हामी भर दी है. आसाराम को ऋषिकेश के आयुर्वेदिक अस्पताल में भर्ती कराने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने राजस्थान सरकार को नोटिस जारी किया है.

Asaram

कोरोना से संक्रमित आसाराम ने अदालत से विनती की है कि उन्हें एलोपैथिक दवाओं के सहारे ना रखा जाए. इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट ने 8 जून तक यानी मंगलवार तक राजस्थान सरकार को इस संबंध में पक्ष रखने के लिए कहा है. मंगलवार को इस मामले की सुनवाई होगी. वहीं सुप्रीम कोर्ट ने इस संबंध में राज्य सरकार से जवाब भी मांगा है. आसाराम ने तबीयत का हवाला देते हुए बलात्कार मामले में अंतरिम जमानत के लिए भी याचिका लगाई थी, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है.

Asaram

दरअसल, इससे पहले राजस्थान हाईकोर्ट ने भी बलात्कार के मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम की अंतरिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी. यहां भी आसाराम की ओर से स्‍वास्‍थ्‍य के आधार पर अंतरिम जमानत दिए जाने की मांग की थी. हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती देते हुए आसाराम ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट राजस्थान हाई कोर्ट के फैसले को ही बरकरार रखा.

Asaram


2013 से आजीवन कारावास की काट रहा ‘आसाराम’

बता दें, बलात्कार के मामले में दोषी पाए जाने के बाद साल 2013 से ही आसाराम जोधपुर की सेंट्रल जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है. इस बीच कई बार बीमारियों के बहाने उसने कोर्ट में अंतरिम जमानत याचिका पेश की है, लेकिन उसे राहत नहीं मिली. आसाराम को 2018 में कोर्ट ने उम्रकैद की सजा सुनाई थी. उस पर आश्रम की ही नाबालिग लड़की से बलात्करा करने का आरोप था, जिसमें वो दोषी पाया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here