अजमगढ़ः मजहब की दीवार तोड़ मुस्लिम लड़की ने थामा हिंदू लड़के का हाथ, मंदिर में लिए सात फेरे, परिवार ने दिया आशीर्वाद

0
38

उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिले के अतरौलिया इलाके में स्थित मंदिर परिसर का मौहाल उस वक्त एक नई इबारत को लिख गया. जब एक मुस्लिम लड़की हिंदू धर्म अपना कर अपने हिंदू प्रेमी के गले में वरमाला डालकर उसे अपना जीवन साथी बना लिया. मुस्लिम लड़की ने हिंदू लड़के साथ ना सिर्फ सात फेरे लिए बल्कि उसके साथ जीने मरने की कसमें भी खाई.

दरअसल, अतरौलिया इलाके के हैदरपुर खास गांव की रहने वाली मुस्लिम लड़की मोमिन खातून को खानपुर फतेह के रहने वाले सूरज से 2 वर्ष पहले प्यार हो गया. दोनों का प्यार जब परवान चढ़ा तो वे परिजनों के चोरी छुप-छुप कर मिलने-जुलने और एक साथ जीने मरने की कसम खाने लगे. लेकिन इस बात की जानकारी जब लड़की के घरवालों को हुई तो धर्म के कारण ऐतराज जताने लगे, जबकि प्रेमी के परिजनों को कोई ऐतराज नहीं था.

इतना ही नहीं, खातून के परिजनों ने सूरज और उसके परिजनों पर दबाव भी बनाया कि वे इस्लाम धर्म को अपना ले, लेकिन सूरज ने मना कर दिया. इसी बीच दोनों ने शादी करने की ठानी और धर्म की आड़े आ रही दीवार को तोड़ने का फैसला किया. दोनों ने आज (शुक्रवार) को सम्मो माता मंदिर में हिंदू रिति रिवाज से शादी कर ली. इस दौरान नवदंपत्ति के घर वालें और इलाके क्षेत्र के संभ्रांत लोग मौजूद रहे.

मंदिर परिसर में आए हुए परिजन ने दोनों वर-वधू को आशीर्वाद भी दिया. इस दौरान लड़के के परिजन इस शादी से काफी खुश दिखे. परिजनों ने बताया कि उनके लड़के ने मुस्लिम युवती से शादी की और वे सेंदूरदान के बाद वे नवदंपत्ति को आर्शिवाद देकर सम्मोमाता मंदिर से घर लाए है. वहीं विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के लोगों ने कहा कि मुस्लिम लड़की ने सनातन धर्म स्वीकार किया है, इसका हम लोग स्वागत करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here