8 साल बाद भारत-पाकिस्तान के बीच होगी द्विपक्षीय सीरीज, भारत के खिलाफ पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तैयारी जोरों पर

0
21
india vs pakistan t20 series t20 series

भारत और पाकिस्तान की टीमें जब आमने-सामने होती है, तो क्रिकेट प्रेमियों का रोमांच और बढ़ जाता है. हालांकि लम्बे वक्त से दोनों देशों के बीच तमावपूर्व संबंध के चलते द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली गई है. ऐसी खबरें आ रही है कि इस साल के अंत में भारत और पाकिस्तान टीमों के बीच जबरदस्त मुकाबला होना वाला है. हालांकि भारत और पाकिस्तान के बीच आईसीसी टूर्नामेंट तो खेले गए हैं. मगर कोई भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं खेली गई और अब 8 साल बाद एक बार फिर से भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय सीरीज का आगाज होने वाला है. इसके तहत दोनों टीमें एक बार फिर एक-दूसरे के खिलाफ मैदान में उतरती नजर आएंगी. दरअसल, इस साल भारतीय जमीन पर होने वाले टी-20 वर्ल्‍ड कप में पाकिस्‍तान के हिस्‍सा लेने को लेकर आईसीसी ने अहम कदम उठाया है.

बता दें, इस साल अक्‍टूबर में भारत की सरजमीन पर टी-20 वर्ल्‍ड कप का आयोजन किया जाना है. इसी को लेकर आईसीसी गवर्निंग बॉडी ने पाकिस्तानी खिलाड़ियों और क्रू मेंबर के वीजा और टैक्स एग्रीमेंट को लेकर बीसीसीआई से बातचीत की है. पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन एहसान मनि ने आईसीसी से टी-20 वर्ल्‍ड कप सीरीज से पहले पाकिस्‍तानी खिलाड़ियों और क्रू मेंबर के वीजा की गारंटी दी जाए.

2019 में पहली बार वर्ल्‍ड कप में भिड़ी थीं भारत-पाक की टीमें

बता दें, भारत और पाकिस्तान के बीच साल 2013 के बाद से एक भी द्विपक्षीय क्रिकेट सीरीज नहीं खेली गई है यानी तकरीबन 8 साल से दोनों टीमों एक-दूसरे के खिलाफ द्विपक्षीय मैच नहीं खेली है. आईसीसी ने टूर्नामेंट के लिए भारत सरकार की ओर से टैक्‍स छूट को लेकर भी बीसीसीआई से बात की है. आईसीसी टी-20 वर्ल्‍ड कप की तैयारियों पर लगातार नजर रखे हुए है और बीसीसीआई से सकारात्‍मक चर्चा की बात भी उसने कही है. आईसीसी का मानना है कि अगले महीने तक पाकिस्‍तानी खिलाड़ियों और सपोर्ट स्‍टाफ को वीजा देने और टैक्‍स छूट का मुद्दा सुलझा लिया जाएगा. भारत और पाकिस्‍तान की टीमें क्रिकेट के मैदान पर पिछली बार साल 2019 में इंग्‍लैंड में हुए वर्ल्‍ड कप में आमने-सामने हुई थी. तब भारतीय टीम ने पाकिस्‍तान को आसानी से मात दे दी थी.

 

ये भी पढ़ें -ऋषभ पंत बनेंगे टीम इंडिया के अगले कप्तान!

Download- Local Vocal Hindi News App

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here