CBI रेड के एक दिन बाद बोले मनीष सिसोदिया- मोदी और केजरीवाल के बीच होगी 2024 में असली जंग!

0
64

दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने घर पर सेंट्रल इन्वेस्टिगेशन ब्यूरो (CBI) द्वारा छापेमारी किए जाने के एक दिन बाद कहा कि मेरे खिलाफ कार्रवाई मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को रोकने के लिए की जा रही है. 2024 की लड़ाई (लोकसभा चुनाव) अरविंद केजरीवाल और नरेंद्र मोदी के बीच होगी.

मनीष सिसोदिया ने शनिवार को अपने घर पर प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भाजपा के खिलाफ निशाना साधा, उन्होंने कहा कि भाजपा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के विकास योजनाओं को रोकने की कोशिश कर रही है. इसके चलते CBI ने मेरे खिलाफ एक्साइज पॉलिसी स्कैम का केस किया है. 2024 का आम चुनाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अरविंद केजरीवाल के बीच होगा.

सिसोदिया ने कहा कि नरेंद्र मोदी सिर्फ विपक्षी सरकारों को गिराने में लगे हैं. नरेंद्र मोदी की तुलना अरविंद केजरीवाल से करते हुए सिसोदिया ने कहा कि केजरीवाल आम आदमी के लिए काम करते हैं, जबकि मोदी सिर्फ अमीरों के लिए काम करते हैं. अपने खिलाफ लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों से इनकार करते हुए सिसोदिया ने कहा कि मेरा सिर्फ इतना अपराध है कि मैं अरविंद केजरीवाल के कैबिनेट में शिक्षा मंत्री हूं. सिसोदिया ने कहा, ‘उनका मुद्दा शराब या आबकारी घोटाला नहीं है. उनकी समस्या अरविंद केजरीवाल हैं. मेरे खिलाफ कार्यवाही, मेरे आवास और कार्यालय पर छापेमारी, उन्हें रोकने के लिए है.’

एक्साइज पॉलिसी पर बोलते हुए सिसोदिया ने कहा कि यह देश की सबसे अच्छी नीति है. अगर दिल्ली के पूर्व उपराज्यपाल अनिल बैजल ने इस नीति के खिलाफ साजिश नहीं की होती तो दिल्ली सरकार को हर साल कम से कम 10,000 करोड़ रुपए मिलते. सिसोदिया ने कहा कि वह देश की खातिर जेल जाने के लिए तैयार हैं. CBI कुछ दिनों में उन्हें गिरफ्तार कर सकती है.

दूसरी ओर दिल्ली कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के इस्तीफे की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने अरविंद केजरीवाल और मनीष सिसोदिया के पुतले जलाए. कांग्रेस का एक कार्यकर्ता अरविंद केजरीवाल का मुखौटा पहने गधे पर बैठा नजर आया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here