तमिलनाडु डी.एम.के. अध्यक्ष स्टालिन की बेटी के घर आईटी की रेड, छापेमारी में मिला 1,000 करोड़ रुपए कैश? जानिए हकीकत

0
13

सोशल मीडिया पर वायरल पोस्ट

सोशल मीडिया पर तेजी से एक पोस्ट वायरल हो रहा है. इस वायरल पोस्ट में चार अलग-अलग तस्वीरें दिखाई दे रही हैं. इन तस्वीरों में भारी मात्रा में कैश और गहने दिखाई दे रहे हैं. वहीं, एक तस्वीर में एक घर के बाहर मीडिया और कुछ पुलिसकर्मी भी खड़े दिख रहे हैं.

इस वायरल तस्वीर को लेकर दावा किया जा रहा है कि यह तस्वीर हाल ही चेन्नई, तमिलनाडु में द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (डीएमके) प्रमुख एम.के. स्टालिन की बेटी के घर पड़े आयकर विभाग (आईटी) के छापेमारी के दौरान की है. आईटी ने छापेमारी के दौरान वहां से करीब 1,000 करोड़ रुपए कैश और 260 करोड़ रुपए का सोना जब्त किया है.

क्या है वायरल तस्वीर का सच?

जब हमने वायरल तस्वीर की सच्चाई जानने के लिए इस पोस्ट से जुड़े की-वर्ड को सर्च किया, तो हमें इस पोस्ट से जुड़ी एक खबर न्यूज एजेंसी एएनआई के सोशल मीडिया पर मिली.

न्यूज एजेंसी के मुताबिक, यह तस्वीर तेलंगाना की है. जहां पुलिस ने चार लोगों को 6.4 करोड़ रुपए की कीमत के 2,000 रुपए के नकली नोटों के साथ गिरफ्तार किया था. इस तस्वीर को एजेंसी ने सोशल मीडिया पर 2 नवंबर, 2019 को शेयर किया था.

फिर हमने वायरल पोस्ट की दूसरी तस्वीर का सर्च किया, तो हमें यही तस्वीर टाइम्स ऑफ इंडिया की न्यूज वेबसाइट पर मिली.

वेबसाइट के मुताबिक, यह तस्वीर बेंगलुरु स्थित हवाला डीलर वीरेंद्र के घर में पड़े आयकर विभाग के छापेमारी की है. आईटी को वीरेंद्र के घर की बाथरूम से 5.7 करोड़ रुपए और सोने, चांदी के गहने भी बरामद हुए थे.

वायरल पोस्ट की तीसरी तस्वीर हमें इंडिया टीवी की वेबसाइट पर खबर के साथ मिली. वेबसाइट के मुताबिक, यह तस्वीर वेल्लोर, तमिलनाडु स्थित सीमेंट के गोदाम में पड़े आयकर विभाग के छापेमारी की है.

वायरल पोस्ट की आखिरी तस्वीर 2 अप्रैल को चेन्नई, तमिलनाडु में डीएमके प्रमुख स्टालिन की बेटी के घर पड़े आयकर विभाग के छापेमारी की है. इस तस्वीर के अलग ऐंगल की फोटो हमें खबर के साथ टाइम्स ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर मिली.

लिहाजा हमारी पड़ताल से साफ हो गया कि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा पोस्ट गलत है. इस पोस्ट में किए गए दावे भी पूरी तरह गलत हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here