देश-दुनिया की 10 अहम खबरें सुबह सवेरे @06-02-2021

0
97

1.अब खुद घिर गईं रिहाना

किसान आंदोलन को लेकर भारत पर सवाल उठाने वाली अमेरिकन सिंगर अब खुद विवादों में हैं. पहला विवाद उनके किसान आंदोलन के समर्थन में पोस्ट करने को लेकर है. रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि इसके लिए उन्हें कनाडा की पीआर फर्म ने 18 करोड़ रुपए दिए थे, जो खालिस्तान समर्थक से जुड़ी है. दूसरा विवाद उनकी कंपनी फैंटी ब्यूटी के प्रोडक्ट्स को लेकर है. इसके लिए जरूरी रॉ मटेरियल का ज्यादातर हिस्सा भारत से जाता है. दावा है कि भारत के गरीब किसानों के बच्चे खदानों में मजदूरी कर इस रॉ मटेरियल को निकालते हैं. इधर, ग्रेटा थनबर्ग के मामले में पुलिस ने गूगल से रिपोर्ट मांगी है.

2.देशभर में किसानों का चक्काजाम

कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसान आज देशभर में चक्काजाम करेंगे. संयुक्त किसान मोर्चा ने दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चक्काजाम करने की बात कही है. हालांकि, भारतीय किसान यूनियन के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि हम उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड और दिल्ली में रोड जाम नहीं करेंगे. यहां के जिलों में अधिकारियों को केवल ज्ञापन सौंपा जाएगा.

3.संसद में किसानों के मुद्दे पर बहस

राज्यसभा में शुक्रवार को किसानों के मुद्दे पर बहस हुई. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने भी विपक्ष पर तल्ख टिप्पणियां कीं. उन्होंने कहा कि कॉन्ट्रैक्ट एक्ट में कोई एक प्रावधान बता दीजिए जो किसान विरोधी हो. किसानों को बरगलाया गया है. दुनिया जानती है कि पानी से खेती होती है, खून से खेती सिर्फ कांग्रेस ही कर सकती है, भाजपा ऐसा नहीं कर सकती. हालांकि उनका यह बयान सदन की कार्यवाही में से हटा दिया गया.

4. UPSC पर केंद्र का फैसला

पिछले साल UPSC की परीक्षा में लास्ट अटेंप्ट करने वाले कैंडिडेट्स को इस साल एक मौका और मिलेगा. सुप्रीम कोर्ट में शुक्रवार को हुई सुनवाई में सरकार ने यह बात कही. इससे पिछली बार की परीक्षा में लास्ट अटेंप्ट कर चुके कैंडिडेट्स को फायदा होगा. सरकार ने कोर्ट में कहा कि आखिरी कोशिश करने वाले कैंडिडेट्स को इस साल एक मौका दिया जा सकता है बशर्ते वे परीक्षा में बैठने की उम्र पार नहीं कर चुके हों.

5. सस्ते नहीं होंगे होम और ऑटो लोन

अगर आपने होम लोन, ऑटो लोन या किसी भी तरह का लोन लिया है तो यह अभी सस्ता नहीं होगा. ऐसा इसलिए, क्योंकि रिजर्व बैंक (RBI) ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है. RBI से कर्ज लेने पर बैंक जिस रेट पर ब्याज चुकाते हैं, उसे रेपो रेट कहा जाता है. वहीं, अपनी बचत RBI के पास रखने पर बैंकों को मिलने वाला ब्याज रिवर्स रेपो रेट कहलाता है.

6. जम्मू-कश्मीर में अब हाईस्पीड इंटरनेट

जम्मू-कश्मीर में शुक्रवार को हाईस्पीड इंटरनेट सेवा बहाल कर दी गई है. 18 महीने बाद राज्य में 4जी इंटरनेट सर्विस फिर से शुरू हुई है. जम्मू-कश्मीर के पावर एंड इन्फॉर्मेशन विभाग के प्रधान सचिव रोहित कंसल ने यह जानकारी दी. 16 अगस्त 2020 को उधमपुर और गांदरबल में हाई स्पीड इंटरनेट सेवा ट्रायल बेस पर शुरू की गई थी. बाकी जिलों में 2जी इंटरनेट सेवा ही जारी थी.

7. IND VS ENG चेन्नई टेस्ट

भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में पहला टेस्ट खेला जा रहा है. पहले दिन का खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड ने 3 विकेट पर 263 रन बनाए. इंग्लैंड के कप्तान जो रूट 128 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे. उन्होंने टेस्ट करियर की 20वीं सेंचुरी लगाई. रूट का यह 100वां टेस्ट है. 100वें टेस्ट में शतक जड़ने वाले वे दुनिया के 9वें और इंग्लैंड के तीसरे खिलाड़ी हैं. उन्होंने लगातार तीन टेस्ट में शतक लगाए हैं. वे 98वें, 99वें और 100वें टेस्ट में शतक जड़ने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बन गए हैं.

8. दुनिया में सबसे तेज वैक्सीनेशन भारत में

देश में कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हुए 21 दिन हो चुके हैं. इस दौरान 50 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाई गई है. भारत ने सबसे कम समय में यह उपलब्धि हासिल की है. 50 लाख लोगों के वैक्सीनेशन में अमेरिका को 24 दिन, ब्रिटेन को 43 और इजराइल को 45 दिन लगे थे. भारत में शुक्रवार को 3,31,029 लोगों को वैक्सीन लगाई गई.

9. मोदी की भतीजी को टिकट नहीं

गुजरात भाजपा ने PM नरेंद्र मोदी की भतीजी सोनल मोदी को निकाय चुनाव का टिकट देने से मना कर दिया है. सोनल ने अहमदाबाद नगर निगम से टिकट मांगा था. पार्टी का कहना है कि नए नियमों के मुताबिक, बड़े नेताओं के रिश्तेदारों को इस चुनाव में टिकट नहीं दिया जाएगा. इसके तहत ही सोनल को टिकट नहीं दिया गया है. सोनल प्रधानमंत्री के बड़े भाई प्रहलाद मोदी की बेटी हैं, जो गुजरात उचित मूल्य दुकान संघ के अध्यक्ष भी हैं.

10. बाइडेन का विदेश नीति पर पहला भाषण

20 जनवरी को अमेरिका के राष्ट्रपति पद की शपथ लेने वाले जो बाइडेन ने पहली बार नई विदेश नीति की तस्वीर सामने रखी. इसके लिए वे खास तौर पर स्टेट डिपार्टमेंट यानी विदेश मंत्रालय पहुंचे. उन्होंने दुनिया से कहा- अमेरिका इज बैक. यमन संकट पर सऊदी अरब को इशारा दिया कि वो मानवाधिकारों को लेकर सतर्क रहे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here