लालकिले की प्राचीर पर पताका लहराने वाले जुगराज के मां-बाप ने छोड़ा गांव, ग्रामीणों ने बोला- नादानी में कर गया ऐसा काम

0
619

गणतंत्र दिवस के दिन लाल किले की प्राचीर पर विशेष धर्म का पताका फहराने वाले जुगराज सिंह के मां-बाप ने अपना घर छोड़ दिया. मिली जानकारी के मुताबिक पंजाब के तरनतारन जिले के वान तारा सिंह गांव में रहने वाले जुगराज सिंह के परिवार वाले और ग्रामीण बुधवार को अफसोस जताते हुए नजर आए. उन्‍हें यह भी डर है कि कहीं पुलिस उनके खिलाफ एक्‍शन ना लें. बता दें, जुगराज सिंह ही वह शख्स है जिसने 26 जनवरी को किसान आंदोलनकारियों के साथ लाल किले की प्राचीर पर विशेष धर्म का (निशान साबिब) लहराया था.

खबरें आ रही हैं कि 23 साल के जुगराज सिंह के मां-बाप अपना गांव छोड़ दिया हैं, उनके पीछे जुगराज के दादा-दादी रह गए हैं जो पुलिस और मीडिया का सामना कर रहे हैं. जुगराज ने जब लाल किले पर विशेष धर्म का पताका फहराया था उस समय उसके दादा महल स‍िंह ने मीडिया से कहा था,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here